पाकिस्तान का काला चेहरा फिर हुआ बेनकाब, ISI के सेफ हाउस में मसूद अज़हर को छिपाया

नई दिल्‍ली : पाकिस्‍तान का आतंकी चेहरा एक बार फिर दुनिया के सामने बेनकाब हो गया है. भारतीय खुफिया एजेंसियों को मिली जानकारी के अनुसार, पाकिस्‍तानी सेना ने आतंकी संगठन जैश-ए मोहम्‍मद के हेडक्‍वार्टर को नियंत्रण में लेने से पहले बड़े षड्यंत्र को अंजाम दिया है. पाकिस्‍तानी सेना ने पुलवामा में हुए आतंकी हमले को अंजाम देने वाले जैश-ए-मोहम्‍मद के चीफ आतंकी मसूद अजहर सहित 6 टॉप कमांडरों को सुरक्षित स्‍थान पर छिपा लिया है. खुफिया एजेंसियों के अनुसार, आतंकवादी संगठन जैश-ए मोहम्‍मद के चीफ मसूद अजहर को पाकिस्‍तानी सेना ने आईएसआई के सेफ हाउस में छिपा दिया है.

वार्डन, एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिसर समेत कई पद खाली, इन योग्यता के साथ करें आवेदन

उल्लेखनीय है कि भारत की कार्रवाई से खौफ खाए पाकिस्तान ने जैश मुख्यालय को अपने कंट्रोल में ले लिया है. जैश का मुख्यालय पाकिस्तान के बहावलपुर में स्थित है. पंजाब सरकार ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के मुख्‍यालय पर कंट्रोल कर लिया है. जैश ने ही पुलवामा के आतंकी हमले की जिम्मेदारी ली थी. पाकिस्तान को इस कार्रवाई को उसका नया नाटक माना जा रहा है. दरअसल, पाकिस्तान आतंकी मसूद अजहर को बचाने के प्रयास में है. बहावलपुर में ही पाकिस्तान सेना का 31 कोर का मुख्यालय भी स्थित है.

सोने चांदी में आई जबरदस्त गिरावट, जानिए आज के रेट

पाकिस्तान गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने जारी किए गए अपने बयान में कहा है कि, "पंजाब सरकार ने जैश के मुख्यालय को अपने नियंत्रण में ले लिया है और वहां पर अपना प्रशासक तैनात कर दिया है." प्रवक्ता ने यह भी कहा है कि यह कार्रवाई गुरुवार को पीएम इमरान खान की अध्यक्षता में हुई एनएससी की मीटिंग में लिए गए फैसले के बाद की गई है. प्रवक्ता के अनुसार, वर्तमान में 600 छात्र इस मुख्यालय में पढ़ते हैं और 70 शिक्षक उन्हें शिक्षा देते हैं. 

खबरें और भी:-

NIT दे रही नौकरी, ऑफिस असिस्टेंट के पद हैं खाली

'दीदी' का सीधा हमला, कहा- अमानवीय धर्म बनाने का प्रयास कर रही भाजपा

ईपीएफओ ने प्रोविडेंट फंड पर बढ़ाई ब्याज दर, जानिए अब कितना मिलेगा इंटरेस्ट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -