रब्बानी ने कहा पाकिस्तानी सेना देती है आतंकवादियों को संरक्षण

नई दिल्ली - आतंकवादियों को सरपरस्ती देने के आरोप के कारण दुनिया से अलग - थलग पड़ते जा रहे पाकिस्तान के भीतर से ही आतंकियों को सरकारी संरक्षण के खिलाफ धीरे-धीरे आवाज बुलंद होने लगी है. अब पाक की पूर्व विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार ने भी पाकिस्तानी सेना पर आतंकवादियों को संरक्षण देने का आरोप लगाया है.हिना ने इस पर तुरंत रोक लगाने की जरूरत बताई है.

बता दें कि हिना रब्बानी ने साफ-साफ चेतावनी दी है कि पाकिस्तान को आतंकवादियों को संरक्षण देने की अपनी गलती स्वीकार करनी चाहिए. यदि हम अपनी गलती स्वीकार नहीं करेंगे, तो फिर उसे ठीक भी नहीं करेंगे.

पूर्व विदेश मंत्री ने हिना ने कहा कि राजनीतिक दल हमेशा से आतंकियों को पालने का विरोध करते हैं.  वहीं सैन्य शासकों ने हमेशा उनको संरक्षण दिया है मुशर्रफ के शासन काल की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि इस दौरान पाकिस्तान को आतंकवाद पर दोहरे मापदंड का तमगा हासिल हो गया था.

रब्बानी खान ने कहा कि किसी भी देश के अंदरूनी तथा पड़ोसियों के साथ संबंधों के मद्देनजर देंखे तो हम आत्मघात की तरफ बढ़ रहे हैं. अफगानिस्तान के असहयोग का जिक्र करते हुए हिना ने कहा कि अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी कह देते कि पाकिस्तान आतंकवाद से लडऩे में हमारी मदद कर रहा है, तो भारत अपनी कोशिशों में कभी कामयाब नहीं हो पाता.

पाकिस्तान के नेता भी मानते हैं वार्ता ही है एकमात्र विकल्प

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -