UN की बैठक में बोले पाक के एक्टिविस्ट्स, पाकित्सानी आर्मी ही उकसाती है कश्मीरियों को

न्यू यॉर्क :​आतंकवाद को बढ़ावा देने को लेकर अंतर्राष्ट्रीय दबाव झेल रहे पाकिस्‍तान को अब पाकिस्‍तान अधिकृत कश्‍मीर (पीओके) के नेताओं और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं का भी विरोध सहना पड़ रहा है। जेनेवा में आयोजित किए गए संयुक्‍त राष्‍ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) के 40वें सत्र के दौरान एक बैठक में पीओके के मानवाधिकार कार्यकर्ताओं और नेताओं ने पाकिस्‍तान के विरुद्ध आवाज उठाई है।

सिर्फ पाकिस्तान ही नहीं इमरान खान भी हो रहे कंगाल, देखें ये रिपोर्ट

उन्‍होंने पाकिस्‍तान समर्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद द्वारा किए गए पुलवामा आतंकी हमले की कड़ी निंदा की। इस दौरान यूनाइटेड कश्‍मीर पीपुल्‍स नेशनल पार्टी के चेयरमैन एस अली कश्‍मीरी ने पाकिस्‍तान की खिलाफत करते हुए कहा है कि पाकिस्‍तानी सेना के अधिकारी कश्‍मीरी लोगों से खुले तौर पर फिदायीन हमला करने के लिए कहते हैं। वे ही उन्‍हें उकसाते हैं। यह एक बेहद चिंताजनक विषय है।

बालाकोट के स्थानीय लोगों के कबूला, एयर स्ट्राइक में आतंकी ही नहीं पाक सैनिक भी मरे

वहीं पीओके के मानवाधिकार कार्यकर्ता एम हसन ने पाकिस्‍तान पर हमला बोलते हुए कहा है कि अब समय आ गया है कि सभी आतंकी अड्डों को तबाह कर दिया जाए, फिर चाहे वो पाकिस्‍तान में हों या पीओके में। पाकिस्‍तान सरकार को इसकी जिम्‍मेदारी लेनी चाहिए और इन आतंकियों से निजात पानी चाहिए। ये आतंकी स्‍थानीय लोगों को ही नहीं बल्कि अंतरराष्‍ट्रीय शांति को भी बर्बाद कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि पूरे विश्व को एकजुट होकर आतंक के खिलाफ कदम उठाना चाहिए।

खबरें और भी:-

यहां ज्वालामुखी पर बनता है खाना, ऐसे ही कुछ अन्य रेस्टोरेंट

इथियोपियन एयरलाइंस का बोइंग विमान क्रैश, 160 की मौत

कई यात्रियों से भरा, इथियोपियन एयरलाइन का बोइंग विमान दुर्घटनाग्रस्त

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -