नाबालिग को अगवा कर जबरन कबूल करवाया इस्लाम, फिर अपहरणकर्ता से ही करा दिया निकाह

इस्लामाबाद: पाकिस्तान में एक 14 वर्षीय लड़की को अगवा किए जाने का मामला सामने आया है। इसके बाद जबरन उसका धर्म परिवर्तन करवाकर अपहरणकर्ता के साथ ही उसका निकाह करवा दिया गया। घटना पंजाब प्रांत के फैसलाबाद के मदीना टाउन से सामने आई है। पीड़ित लड़की पाकिस्तान के अल्पसंख्यक ईसाई समुदाय से आती है। 26 अप्रैल को एक घर में काम करने जाते समय उसे अगवा किया गया।

फोर्ब्स ने इंटरनेशनल क्रिश्चियन कंसर्न (ICC) के हवाले से लिखा है कि, “मारिया शहबाज का मोहम्मद नकाश के नेतृत्व में एक समूह ने अपहरण कर लिया। घटना के समय वह काम पर जा रही थी। चश्मदीद परवेज मसीह, युनूस मसीह और नईम मसीह ने बताया कि अपराधियों ने उसे जबरन कार में बिठाया।” चश्मदीदों का कहना है कि वे मारिया की मदद नहीं कर सके, क्योंकि अपहरण करने वाले हथियारबंद थे। अपराधियों ने हवाई फायरिंग भी की। मारिया की मॉं निगत इंटरनेशनल क्रिश्चियन कंसर्न से बात करते हुए, बेटी के बलात्कार, जबरन इस्लाम कबूल करवाने या उसकी हत्या किए जाने की आशंका जाहिर की है। अब खबर आ रही है कि निगत की आशंका बेबुनियाद नहीं थी। मारिया को जबरदस्ती इस्लाम कबूल करवा अपहरण करने वाले से निकाह करवा दिया गया है।

आपको बता दें कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यक लड़कियों का अपहरण कर उनका जबरन धर्म परिवर्तन करवाने का यह पहला मामला नहीं है। पाक से लगातार ऐसी नापाक हरकतों की खबरें सामने आती रहती है। वहाँ के हिन्दू, सिख और ईसाई लड़कियों का जबरन इस्लाम कबूल  करवाया जाता है।

हिज्बुल के आतंकी सलाहुद्दीन ने पाक को चेताया, कहा- मजबूत स्थिति में है हिन्दुस्तान

लॉक डाउन से महामंदी की कगार पर अमेरिका, 14 फीसद से अधिक लोग हुए बेरोज़गार

1960 के मध्य में कोरोना की हुई थी पहचान, विषाणुओं के होते है चार उप-समूह

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -