अमित शाह के JAM वाले बयान पर ओवैसी ने दी अपनी प्रतिक्रिया, कहा- ''उनको हर बात में आजम खान...''

लखनऊ: यूपी में जैसे-जैसे विधानसभा के चुनाव नजदीक आ रहे हैं बयानों को लेकर सियासत और भी तेज होती जा रही है. पहले अखिलेश यादव के जिन्ना वाले बयान को लेकर सियासत में खूब गर्मी देखने को मिली. अब अमित शाह के JAM वाले बयान पर वार-पलटवार विपक्ष ने शुरू कर दिए है. इसी कड़ी में AIMIM के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी ने भी अपनी प्रतिक्रिया भी दे दी है.अलीगढ़ में असदुद्दीन ओवैसी ने बोला है कि अमित शाह ने आजमगढ़ की रैली में JAM का जिक्र किया था. हमसे पूछा गया तो हमने बोला  कि हम तो टोस्ट पर JAM लगाकर खा लेते हैं तो आप कौन से JAM की बात कर रहे हैं. उनको हर बात में आजम खान....आपको क्या बिना मुसलमान के नाम लिए रात में नींद नहीं आती?.

अमित शाह ने बताया था JAM का ये मतलब: रिपोर्ट्स की माने तो गृह मंत्री अमित शाह ने बोला था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने एक JAM लाया है जिससे भ्रष्टाचार विहीन खरीद हो सके. JAM का अर्थ है, J- जन धन बैंक खाते, A- आधार कार्ड और M- हर आदमी को मोबाइल. समाजवादी पार्टी ने भी JAM लाया है और उसका अर्थ है, J- जिन्ना, A- आजम खान और M- मुख्तार है. ये लोग उत्तरप्रदेश का भला नहीं कर पाएंगे. 

जिसके पूर्व अमित शाह के 'जैम' वाले बयान पर पलटवार करते हुए अखिलेश यादव ने बोला था कि 'इधर-उधर के JAM मत ढूंढिए, JAM अकेले अच्छा नहीं लगता है. सब लोगों ने सुबह नाश्ता किया होगा और बिना बटर के आप भी नहीं चलोगे और ये बीजेपी वाले नहीं जानते कि डायबिटीज में JAM नहीं खाया जाता है.' अखिलेश यादव ने यह भी बोला है कि  'बिना बटर के कुछ नहीं हो सकता, बटर का मतलब अगली बार बताएंगे लेकिन इतना जान लीजिए कि उन्‍होंने JAM भेजा है तो हम उनके लिए 'बटर' भेज रहे हैं.'

भोपाल के जंबूरी मैदान पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

यूपी चुनाव में 'सबसे बड़े लड़इया' होने वाले है सीएम योगी, इस फिल्म से प्रेरित होगा चुनावी गीत

आज वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ करेंगी बैठक

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -