'मेक इन इंडिया' के साथ 'क्वालिटी इन इंडिया' पर दिया जाए ध्यान : सुजुकी

'मेक इन इंडिया' के साथ 'क्वालिटी इन इंडिया' पर दिया जाए ध्यान : सुजुकी

जहाँ एक तरफ देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत को वैश्विक विनिर्माण केंद्र बनाये जाने को लेकर "मेक इन इंडिया" पर जोर देने की अपील कर रहे है, वहीँ दूसरी तरफ सुजुकी मोटर कॉरपोरेशन के चेयरमैन व सीईओ ओसामू सुजुकी का यह कहना है कि भारत को वाहन पुर्जा क्षेत्र में यदि अंतर्राष्ट्रीय आपूर्तिकर्ता बनना है तो "क्वालिटी इन इंडिया" पर जोर दिया जाना चाहिए. सुजुकी का कहना है कि "भारत में जहाँ एक ओर मेक इन इंडिया पर जोर दिया जाता है तो इसके साथ ही क्वालिटी इन इंडिया को भी जोड़ना चाहिए."

इसके साथ ही उन्होंने अपनी यह बात जारी रखते हुए और क्वालिटी को ध्यान में रखते हुए कहा है कि यदि भारत में सभी आपूर्तिकर्ता क्वालिटी पर अपना ध्यान आकर्षित करते है तो संभवतः ही यह भी हो सकता है कि हम अमेरिका और चीन को भी पीछे छोड़ने में कामयाब हो जाये और इसके साथ ही वैश्विक बाजार में सबसे ऊपर हमारा नाम आ जाये. इसके साथ ही सुजुकी ने यह भी कहा है कि हम दुनियाभर से करीब 10 लाख से भी ज्यादा वाहनों को वापस बुलवा रहे है जो इस बात का सबूत है कि हमें गुणवत्ता पसंद है.