नवाज शरीफ के खिलाफ 4.9 अरब डॉलर की धांधली की जांच के आदेश

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की सुरक्षा पहले ही हटा दी गई थी साथ ही अब वे पाक सियासत के भी सक्रीय भूमिका में नहीं होंगे अब वे भारत में गैर कानूनी तरीके से 4.9 अरब डॉलर जमा कराने के आरोप में जांच का सामना कर रहे है. सरकार ने इस हेतु जांच शुरू करने के पाकिस्तान की नेशनल अकाउंटबिलिटी ब्यूरो (NAB) के आदेश को मंजूरी दी है. NAB की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि ब्यूरो के चेयरमैन ने उस मीडिया रिपोर्ट का संज्ञान लिया है, जिसमें दावा किया गया है कि नवाज शरीफ ने प्रधानमंत्री रहने के दौरान भारत में 4.9 अरब डॉलर जमा किए.

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का राजनीतिक भविष्य खत्म माना जा रहा है यानी वो अब आजीवन चुनाव नहीं लड़ सकेंगे. इस रिपोर्ट के मुताबिक वर्ल्ड बैंक की 'माइग्रेशन एंड रिमिटेंस बुक 2016' में नवाज शरीफ के भारत में पैसा भेजने का जिक्र है. इस मनी लॉन्ड्रिंग मामले में नवाज शरीफ समेत अन्य के खिलाफ जांच शुरू करने के आदेश के बाद से उनकी समस्याएं और बढ़ गई हैं.

रिपोर्ट में दावा किया गया कि शरीफ ने यह रकम भारत के वित्त मंत्रालय को भेजी थी. इसके चलते भारत का विदेशी मुद्रा भंडार अचानक बढ़ गया था, जबकि पाकिस्तान के विदेशी मुद्रा भंडार में कमी आ गई थी. स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान इस आरोपों को सिरे ने नकार चुका है. 

पाक और बांग्लादेश से कई बेहतर भारतीय प्रवासियों की छवि- रिपोर्ट

पाक का 11 आतंकियों को फांसी देना, कहीं साजिश तो नहीं ?

इसलिए भारत से मदद मांग रहा पाकिस्तान का ये दिग्गज खिलाड़ी

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -