ओरल सेक्स से भी हो सकती हैं यौन बीमारियां

ओरल सेक्स से भी हो सकती हैं यौन बीमारियां

ओरल सेक्स को लेकर कई तरह की भ्रांतियां समाज में फैली हुई हैं। कई लोगों का मानना है कि यौन सेक्स के मुकाबले ओरल सेक्स  सुरक्षित होता है और इससे यौन संक्रमण होने का खतरा भी कम  होता है। हम आपको बता दें कि यह एक तरह का मिथ है कि ओरल सेक्स से यौन बीमारियां नहीं होती। यौन सेक्स की तरह ही अगर ओरल सेक्स में सुरक्षित तरीका इस्तेमाल न किया जाए, तो एसटीडी होने का खतरा रहता है। आईए जानते हैं ओरल सेक्स से जुड़े मिथ और तथ्य— 

मुंह से एसटीडी नहीं फैलता— यह एक मिथ है। डॉक्टर्स के अनुसार ओरल सेक्स के दौरान भी एसटीडी यानी यौन सेक्स के दौरान होने वाली बीमारियां फैलने का खतरा ज्यादा रहता है। ओरल सेक्स से ह्यूमन पापील्यूमा वायरस  यानी एचवीपी के संक्रमण का खतरा होता है। 

ओरल सेक्स के समय सावधानी जरूरी नहीं— यह एक मिथ है। ओरल सेक्स करने से पहले भी सावधानी रखना जरूरी है। अगर आप ओरल सेक्स कर रहे हैं, तो पहले अपने दांतों को अच्छे से साफ करें, इससे संक्रमण का खतरा कम हो जाता है, क्योंकि कीटाणु आपके मुंह में चिपक नहीं पाते हैं। 

मुंह में स्खलन न करने से संक्रमण नहीं होता— यह भी एक मिथ है। ओरल सेक्स के दौरान स्खलन से  पहले भी कीटाणु मुंह में जा सकते हैं। इसलिए ओरल सेक्स करते समय कंडोम का इस्तेमाल करना चाहिए। ओरल सेक्स से एसटीडी के अलावा कैंसर का खतरा भी रहता है। 

बिना कंडोम सेक्स करना है तो अपनाएं ये तरीके

फोरप्ले से इस तरह करें पार्टनर को अधिक उत्तेजित

पुरुष में हो अगर यह खास बातें तो सेक्स में आएगा डबल मजा

 

?