मात्र शनिदेव ही एक ऐसे देवता हैं, जिनके कई वाहन हैं

न्याय के देवता कहे जाने वाले शनिदेव, न्याय के पक्षधर हैं। इनकी दृष्टि से कोई नहीं बच सका। इनकी छाया जिस भी व्यक्ति पड़ती है, तो उसका सौभाग्य उसका साथ छोड़ कर भाग जाता है और दुर्भाग्य पीछे पड़ जाता है। शनिदेव भगवान सूर्य के पुत्र माने जाते है। इनका स्वभाव अक्रोशित है, जिनसे हर कोई भयभीत रहता है। इनके अगर वाहन की बात करें, तो हिन्दू धर्म में मात्र यही एक ऐसे देवता हैं, जिनके कई वाहन है। लेकिन बहुत कम ही लोग इनके वाहन से परिचित हैं। अगर आप भी इनके वाहन के बारे मे जानना चाहते हैं, तो यहां पर आज हम आपको शनिदेव के वाहन से जुड़ी बातों के बारे में बताने वाले हैं।

सूर्यपुत्र शनि के वाहनों की बात करते हुए सामान्य रूप से कौवे के बारे में ध्यान आता है, लेकिन उनके कौवे सहित कुल 9 वाहन है। जिनमें से कई को ज्योतिषीय और धार्मिक महत्व के अनुसार बेहद शुभ माना गया हैं। इसके बावजूद जरूरी नहीं है कि वे आपके लिए शुभ ही हों। इसलिए ये जानना अत्यंत आवश्यक है कि कौन शुभ है और कौन अशुभ। शास्त्रों  की माने तो शनि जिस वाहन में सवार होकर किसी व्यक्तिव की कुंडली में प्रवेश करते हैं, उसकी राशि की गणना करके तय होता है कि उनका आगमन व्यक्ति के लिए अच्छा है या बुरा। शनि के नौ वाहनों में गिद्ध, घोड़ा, गधा, कुत्ता, शेर, सियार, हाथी, मोर और हिरण शामिल हैं। जिसकी गणना का उत्त र 1 है, तो उसके लिए शनि का वाहन गधा होगा।

 

जानिए किस राशि के लोगों की होती है स्मरण शक्ति सबसे तीव्र.......

शनिवार के दिन जा रहे शाॅपिंग करने, तो भूल से भी ये चीजें न खरीदें

इस शक्ति की वजह से ही भगवान गणेश लिख पाए महाभारत

इस चीज में बहुत ही भाग्यशाली होते हैं मिथुन राशि के लोग

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -