और लाल हुआ टमाटर, प्याज ने भी खूब रुलाया

और लाल हुआ टमाटर, प्याज ने भी खूब रुलाया

नई दिल्ली : पूरे देश में एक बार फिर प्याज के दामों में जबरदस्त तेजी आ गई है .प्याज की कीमतें फिर से 50 रुपये प्रति किलो से ऊपर चली गई हैं. टमाटर का हाल भी बुरा है. ये स्थिति सिर्फ दिल्ली में नहीं, देश के कई बड़े शहरों में है. अब तो प्याज के भाव सुनकर ही आंसू आने लगे हैं. बढ़ती कीमतों से प्याज -टमाटर भोजन की थाली से गायब होते जा रहे हैं .

बता दें कि खाद्य मंत्रालय के आंकड़ों की मानें तो 28 नवंबर को देश के 27 अहम शहरों में खुदरा बाजार में प्याज 50 रुपये प्रति किलो से ऊपर बिक रहा था. व्यापारियों के अनुसार माल की आपूर्ति आधे से ज्यादा घटने और इस साल पैदावार कम होने से मांग और पूर्ति का संतुलन बिगड़ने से कीमतें बढ़ीं हैं.

खाद्य मंत्रालय के अनुसार देश के 44 महत्वपूर्ण शहरों में टमाटर 50 रुपये किलो से ऊपर है. बारिश की वजह से महाराष्ट्र के कई इलाकों में टमाटर की फसल खराब हुई है. हालात से निबटने के लिए खाद्य मंत्रालय ने महाराष्ट्र से 10 हजार टन टमाटर मंगाने की तैयारी शुरू कर दी है. लेकिन उपभोक्ता मामले के मंत्री रामविलास पासवान ने कहा कि उन्हें नहीं पता कि इसमें कब और कैसे गिरावट आएगी. उन्होंने कहा केंद्र और राज्य को मिलकर इस समस्या से लड़ना है. हम कीमतों में गिरावट की उम्मीद कर रहे हैं.

यह भी देखें

दूसरी तिमाही में विकास दर बढ़ने के संकेत

1.16 लाख लोगों को IT का नोटिस