फेस्टिवल सीजन में महंगाई की मार जारी, एक महीने में ही दोगुने हो गए प्याज़ के दाम

नई दिल्ली: आम जनता वैसे ही इन दिनों पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से परेशान है, ऊपर से अब सब्जियों के बढ़ते भाव ने आम लोगों का जीना दूभर कर दिया है. टमाटर के बढ़ते दामों के बाद अब प्याज की कीमतें भी रुलाने की तैयारी कर रही हैं. बीते एक महीने में थोक बाजार में प्याज कीमतें दोगुनी से अधिक हो गई हैं.

व्यापारियों का कहना है कि इस बार त्योहारी सीजन में प्याज महंगी ही रहेगी और जनवरी से पहले इसकी कीमतों में राहत मिलने की उम्मीद नहीं है. देश के प्याज उत्पादक कई इलाकों में भारी बारिश होने के चलते प्याज की गर्मियों की फसल को काफी नुकसान हुआ है और जाड़े के फसल की बुवाई में देरी हुई है. उल्लेखनीय है कि इसके पहले टमाटर की कीमतों के बहुत बढ़ने की खबर आई थी. कोलकाता में तो खुदरा बाजार में टमाटर 93 रुपये किलो के भाव तक पहुंच चुका है. 

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, महाराष्ट्र के प्रमुख उत्पादक क्षेत्र लासलगांव में प्याज का थोक भाव एक महीने में ही लगभग दोगुना बढ़कर 33,400 रुपये प्रति टन तक पहुंच गई है. मुंबई में प्याज के खुदरा दाम भी 50 रुपये प्रति किलो से ऊपर पहुँच गए है. प्याज का निर्यात अभी खुला हुआ है, किन्तु यदि कीमतें इसी तरह बढ़ती रहीं तो सरकार फिर एक्सपोर्ट पर रोक लगा सकती है.

दो दिन की शांति के बाद फिर भड़के पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए आज का भाव

भारत में बढ़ी सोने की मांग के कारण गिरी बचत दर

सेंसेक्स और निफ्टी में आई गिरावट, जानिए क्या है बाजार का हाल

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -