ओएनजीसी कर्मचारियों की एकजुट हड़ताल, नारेबाजी कर गुस्सा जताया

देहरादून में मंगलवार को ओएनजीसी कर्मचारियों ने प्रबंधन के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन करते हुए अपना रोष व्यक्त किया.देहरादून स्थित ओएनजीसी तेल भवन में मंगलवार दोपहर एक बजे के करीब बड़ी संख्या में ओएनजीसी कर्मचारी मुख्य गेट पर एकत्रित हुए और महत्वपूर्ण विभागों को दिल्ली शिफ्ट करने के विरोध में आंदोलन की अगुवाई करते हुए धरना दिया व प्रबंधन को चेतावनी भी दी कि यदि इस मुद्दे का जल्द ही कोई हल नहीं ढूंढा जाता है तो इसके गंभीर परिणाम भी हो सकते है.

दरअसल उत्तराखंड के दून में स्थित ओएनजीसी भवन का पैन कार्ड दिल्ली स्थानांतरित होने के कारण कई मजदूरों और कामगारों के रोजगारहीन होने का खतरा गहराने के कारण मजदुर संघ और यूनियंस के द्वारा मिलकर यह हड़ताल की गई है. 

इस धरने की अगुवाई इंटक के प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व मंत्री हीरा सिंह बिष्ट ने करते हुए बताया कि ओएनजीसी प्रबंध तंत्र के इस निर्णय से पूरी तरह से लगभग 2000 नियमित और 1200 संविदा और उपनल के पूर्व सैनिक कर्मचारियों का भविष्य अंधकार में जाते हुए दिखाई दे रहा है.ओएनजीसी का पैन कार्ड दिल्ली चले जाने से अब उत्तराखंड आयकर दाखिल करने वाले राज्यों में अपना पहला स्थान खो देगा और सरकार को भी सालाना सौ करोड़ के टैक्स का नुकसान होगा कोई भी इस विषय पर गंभीरता से विचार नहीं कर रहा है. 

4 करोड़ की फ्लोटिंग मरीना बोट में कैबिनेट मीटिंग, टिहरी झील की विशेष सजावट

CISCE results 2018 - 12वीं में तम्मना दाहिया ने टॉप कर देश में दूसरा स्थान बनाया

CISCE results 2018 -आईजी दीपम सेठ के बेटे ने 98% अंक लाकर बढ़ाया मान

देहरादून नगर निकाय चुनाव के लिए आप ने की तैयारियां तेज़, कार्यकर्ताओं को विशेष निर्देश

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -