यूपी बीजेपी की टीम से होगी कई नेताओं की छुट्टी, अब युवा चेहरों को दी जाएगी तरजीह

यूपी बीजेपी की टीम से होगी कई नेताओं की छुट्टी, अब युवा चेहरों को दी जाएगी तरजीह

लखनऊ: जिला कमेटियों का गठन पूरा होने के बाद बीजेपी की उत्तर प्रदेश कमेटी के लिए पदाधिकारियों के लिए छानबीन शुरू कर दी है. वहीं मिशन-2022 की खातिर तैयार हो रही बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंंत्र देव सिंह की टीम में जातीय संतुलन साधने के साथ युवा चेहरों को तरजीह दी जाने वाली है. जंहा मौजूदा टीम के एक तिहाई चेहरों की छुट्टी भी तय मानी जा रही है.

मिली जानकारी के अनुसार संगठनात्मक कार्यों के माहिर माने जाने वाले भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के लिए अपनी टीम गठित करना आसान नहीं होगा. जातीय और क्षेत्रीय संतुलन को साधने के अलावा नई टीम के सामने बेहतर प्रदर्शन की चुनौती है. वहीं विधान परिषद के स्नातक व शिक्षक क्षेत्र की 11 सीटों पर निर्वाचन के अलावा त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव भी इसी टीम को ही कराना होगा.

वहीं यह भी कहा जा रहा है कि एक व्यक्ति, एक पद फार्मूले के आधार पर अनेक बड़े नाम नई कमेटी में शामिल नहीं हो पाएंगे. उपाध्यक्ष संजीव बालियान, बीएल वर्मा, नवाब सिंह नागर, जेपीएस राठौर व कांता कर्दम की कुर्सी बचे रहना आसान न होगा. जंहा अभी तक भाजपा के दो प्रदेश महामंत्री अब योगी सरकार में मंत्री बन चुके है. अशोक कटारिया व नीलिमा कटियार का संगठन में बने रहना मुमकिन न होगा. वहीं  प्रदेश मंत्रियों में से अनूप गुप्ता, सुब्र्रत पाठक, संतोष सिंह, अमरपाल मौर्य, देवेंद्र सिंह, वाईपी सिंह व त्रयंबक त्रिपाठी की तरक्की होने की उम्मीद जताई जा रही है. सूत्रों की माने तो इस बात का पता चला है  कि इस माह के अंत तक प्रदेश कमेटी के साथ क्षेत्रीय अध्यक्षों व मोर्चा अध्यक्षों की घोषणा भी होगी. मौजूदा क्षेत्रीय और मोर्चा अध्यक्षों में से आधा दर्जन को प्रदेश कमेटी में शामिल किए जाने की चर्चा है.

राष्ट्र महासचिव गुतेरस का बड़ा बयान, कहा- 'भारत और पाक के लिए आपस में तनाव करना...'

राष्ट्रपति अशरफ गनी ने पाक को बनाया निशाना, कहा- 'आतंकवाद के विरुद्ध नहीं उठा...'

पेरिस में FATF की संपन्न हुई बैठक, पाक पर सकती दिखाने की संभावना