नेपाल भूकंप में 82 घंटे बाद जिंदा मिला एक शख्स

Apr 29 2015 10:51 PM
नेपाल भूकंप में 82 घंटे बाद जिंदा मिला एक शख्स

काठमांडू : नेपाल में आए 25 अप्रैल के विनाशकारी भूकंप से ध्वस्त एक होटल से फ्रांसीसी बचाव टीम ने एक शख्स को 82 घंटे बाद जिंदा निकाला है. काठमांडू स्थित एक होटल में ठहरे 27 वर्षीय ऋषि खनल 25 अप्रैल को दोपहर का भोजन करने के बाद दूसरी मंजिल पर गए थे.

तभी अचानक सब कुछ ध्वस्त होकर गिरने लगा. वह मलबे के ढेर में फंस गए. उनके पैर बुरी तरह जख्मी हो गए थे. अस्पताल में भर्ती ऋषि ने 28 अप्रैल को बताया, "मुझे थोड़ी उम्मीद थी लेकिन 27 अप्रैल तक मैंने वह उम्मीद भी छोड़ दी थी. मेरे नाखून सफेद हो गए थे और मेरे होंठ फट गए थे.

मैंने मान लिया था कि अब मेरे लिए कोई नहीं आएगा. इसमें कोई संदेह नहीं था कि मैं मरने जा रहा हूं". अपने पारिवारिक सदस्यों से घिरे ऋषि ने कहा, "मेरे इर्द-गिर्द लाशें और दुर्गंध थी. लेकिन मैंने पुकार लगाना जारी रखा और अंततः मेरी आवाज एक फ्रांसीसी टीम तक पहुंची.

उसने मुझे कई घंटों के अभियान के बाद बाहर निकाला". मलबे में फंसे रहने के दौरान की आपबीती सुनाते हुए उन्होंने बताया, "मेरे पास खाने या पीने के लिए कोई चीज नहीं थी. इसलिए मुझे जिंदा रहने के लिए अपना पेशाब तक पीना पड़ा".