एक बार फिर भारत-चीन के जवानों में हुई खतरनाक भिड़त

नई दिल्ली: भारत तथा चीन के मध्य लद्दाख इलाके में बहुत वक़्त से चल रहे तनाव के बीच अब अरुणाचल प्रदेश में भी नियंत्रण रेखा के समीप पेट्रोलिंग के चलते दोनों देशों के जवान भिड़ गए। हालांकि कमांडर स्तर की चर्चा के पश्चात् इस मामले को सुलझा लिया गया। हालांकि झड़प की ये घटना बीते हफ्ते हुई थी। 

वहीं रक्षा सूत्रों ने बताया कि इसमें कोई हानि नहीं हुई है। झड़प को लेकर यह भी प्रश्न उठ रहे हैं कि क्या बीते हफ्ते अरुणाचल प्रदेश के यांगत्से के नजदीक तवांग सेक्टर के पास भारतीय जवानों द्वारा पीएलए जवानों को हिरासत में लिया गया था। भारत-चीन सीमा का औपचारिक तौर पर सीमांकन नहीं किया गया है इसलिए देशों के बीच एलएसी की धारणा में अंतर है। मगर दोनों देशों के बीच मौजूदा समझौतों तथा प्रोटोकॉल के पालन से इन इलाकों में शांति संभव हुई है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के नजदीक 100 जवान वास्तविक नियंत्रण रेखा का उल्लंघन कर 30 अगस्त को उत्तराखंड के बाड़ाहोती सेक्टर में घुस आए थे तथा कुछ घंटे पश्चात् वापस लौट गए। हालांकि भारत-तिब्बत सीमा पुलिस ( ITBP) के सैनिक इस इलाके में तैनात हैं। वहीं जवाबी रणनीति के तहत भारतीय जवानों ने क्षेत्र में गश्त की थी। 

देशभर में 93.17 करोड़ के पार हुआ कुल टीकाकरण का आंकड़ा

आखिर झुका ब्रिटेन, UK जाने वाले भारतीयों को अब नहीं होना होगा क्वारंटाइन

लेह-म्यांमार में भूकंप के तेज झटके, आधी रात हिली धरती

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -