'ओमिक्रोन' के ये 3 लक्षण है कोरोना के बाकी वेरिएंट से बिल्कुल अलग, सबसे ज्यादा है खतरनाक

नई दिल्ली: कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रोन आहिस्ता-आहिस्ता अपने पैर पसारने लगा है। पुरे विश्व में इसके केस रफ़्तार से बढ़ने लगे हैं। भारत में इसके केस सामने आने के पश्चात् हंगामा मच गया है। कोरोना की पिछली लहर में डेल्टा वेरिएंट ने यहां भारी तबाही मचाई थी। डेल्टा से संक्रमित होने के पश्चात् सांस लेने में समस्या, तेज बुखार, कमजोरी, खाने का स्वाद तथा सुगंध ना पता चलने जैसे कुछ लक्षण नजर आ रहे हे थे। हालांकि ओमिक्रोन के साथ ऐसा बिल्कुल नहीं हैं। ओमिक्रोन वेरिएंट के लक्षण बहुत अलग हैं।

ओमिक्रोन वेरिएंट के लक्षण:- ओमिक्रोन के बारे में बताया जा रहा है कि ये अब तक सभी वेरिएंट में सबसे अधिक संक्रामक है। इसके अब तक जितने भी रोगी मिले हैं उनमें कोरोना के सामान्य लक्षण नहीं पाए गए हैं। किसी में भी फ्लू जैसी दिक्कत नहीं देखी गई है जबकि डेल्टा में सबसे प्रमुख लक्षण यही था। जिस चिकित्सक ने पहली बार ओमिक्रोन के बारे में पुरे विश्व को बताया था, उनके मुताबिक इस वेरिएंट के रोगियों में कोरोना के क्लासिक लक्षण नहीं थे। दक्षिण अफीकी मेडिकल एसोसिएशन की अध्यक्ष डॉ एंजेलिक कोएत्जी के मुताबिक, ओमिक्रोन के तीन प्रमुख लक्षण सिर दर्द, बहुत अधिक थकान तथा बदन दर्द हैं। ना तो इन्हें तेज बुखार हो रहा है एवं ना हीं खाने का टेस्ट एवं सुगंध जा रहा है।

इन बातों का रखें ख्याल:- कोरोना से बचाव के लिए आपको पहले की भांति अभी भी सारी सावधानियां बरतनी होंगी। कोई भी लक्षण नजर आते ही तत्काल जाँच कराएं तथा आइसोलेट हो जाएं। केवल इसी प्रकार ही इस वायरस को फैलने से रोका जा सकता है। मास्क अवश्य लगाएं तथा उचित तरीके से लगाएं, सामाजिक दुरी का पालन करें, खान-पान सही रखें तथा यदि आपने अब तक वैक्सीन की दोनों डोज नहीं लगवाई है तो इसे शीघ्र से शीघ्र लगवा लें।

हिंदुत्व पर सलमान खुर्शीद ने मारी पलटी, पहले ISIS से तुलना, अब बोले - ये जीवन पद्धति

मर्केल ने जर्मनी के लोगो से टीका लगवाने की अंतिम अपील की

रतन टाटा को असम का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -