इंदौर में बच्चों को अपनी चपेट में ले रहा कोरोनावायरस, मिले ओमिक्रॉन के सब वैरिएंट BA.2 के 12 मरीज

इंदौर: इंदौर में ओमिक्रॉन का कहर तेजी से बढ़ रहा है। जी दरसल यहाँ ओमीक्रॉन के साथ अब इसके सब वैरिएंट BA.1 और BA.2 के मामले सामने आए हैं। आपको बता दें कि शहर में ओमिक्रॉन के सब वैरिएंट BA.2 के 12 मरीज मिले हैं। इस लिस्ट में 6 बच्चे भी शामिल हैं। आप सभी को बता दें कि BA.2 स्ट्रेन सबसे ज्यादा तेजी से फैलता है। जी हाँ और इसका संक्रमण मरीज के फेफड़ों को सबसे ज्यादा प्रभावित करता है। आप सभी को बता दें कि नए आए मरीजों के फेफड़ों में भी 5% से 40% तक इंफेक्शन मिला है।

वहीँ ओमिक्रॉन BA.2 के मामले सामने आने के बाद इंदौर स्वास्थ्य विभाग भी चिंता जता रहा है। आप सभी को बता दें कि कोरोना वायरस और ओमिक्रॉन से अलग यह वैरिएंट इस वजह से अलग है क्योंकि यह स्ट्रेन फेफड़ों को ज्यादा असर डालता है। जी हाँ और इस स्ट्रेन को BA.2 सब-स्ट्रेन या 'स्टील्थ' (Stealth) यानी छिपा हुआ वर्जन भी कहा जा रहा है, जो 40 से अधिक देशों में पाया गया है। आपको हम यह भी बता दें कि इससे पीड़ित अरबिंदो अस्पताल में भर्ती 17 साल के मरीज के लंग्स यानी फेफड़े 40% तक संक्रमित मिले हैं। इसी के साथ, दो मरीज आईसीयू में हैं। कहा जा रहा है इन मरीजों को ऑक्सीजन लगाने के साथ-साथ अस्पताल में भर्ती कराना पड़ रहा है।

वहीं इनके अलावा 4 मरीजों में ओमिक्रॉन BA.1 की पुष्टि हुई है। इसी के साथ अरबिंदो हॉस्पिटल के डॉक्टर रवि डोसी का कहना है कि ''ओमिक्रॉन का पहला सब वैरिएंट BA.1 आया था। यही वैरिएंट अब रोटेट होकर BA.2 हो गया है। 6 जनवरी तक इसका लंग्स इन्वॉल्वमेंट बिल्कुल भी नहीं था। इसके बाद अब तक ऐसे 12 मरीज आ चुके हैं, जिनमें BA.2 मिला है, उनके 40 फीसदी तक फेफड़े संक्रमित हो गए हैं। चिंता वाली बात यह कि ऑक्सीजन लगाने के साथ मरीजों को एडमिट करना पड़ रहा है। दो लोग ICU में हैं।

फेफड़ों में इन्फेक्शन होना चिंता की बात है। हालांकि, वैक्सीन के दोनों डोज लगवा चुके मरीज सुरक्षित हैं।'' सबसे अहम बात तो यह है कि BA.2 सब-स्ट्रेन RT-PCR टेस्ट से भी बच सकता है। जी हाँ और स्टील्थ ओमिक्रॉन ने पूरे यूरोप में और तेज लहर की आशंका पैदा कर दी है। वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुसार, ओमिक्रॉन वैरिएंट में तीन सब-स्ट्रेन हैं- BA.1, BA.2, और BA.3। जबकि दुनिया भर में रिपोर्ट किए गए ओमिक्रॉन संक्रमणों में BA.1 सब-स्ट्रेन सबसे खास है, हालाँकि BA.2 सब-स्ट्रेन तेजी से फैल रहा है। इसी के साथ विदेशी हेल्थ एक्सपर्ट्स ने BA.2 को 'variant under investigation' कहा है, जो कि 'variant of concern' घोषित किए गए स्ट्रेन से ही बना है।

इंग्लैंड के इस खिलाड़ी ने 2021 के लिए ICC मेन्स टेस्ट क्रिकेटर ऑफ द ईयर चुना

बांग्लादेश सामूहिक विद्रोह दिवस मना रहा है

ऑस्ट्रेलियाई पीएम स्कॉट मॉरिसन का वीचैट अकाउंट हैक कर इसका नाम बदल दिया गया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -