आंखों में दिखने वाले ये 7 लक्षण हो सकते हैं Omicron का संकेत

ओमिक्रॉन के लक्षणों को लेकर हर दिन नए-नए खुलासे हो रहे हैं। ऐसे में डॉक्टर्स का कहना है कि कोरोना के नए वैरिएंट का पहला लक्षण मरीज की आंखों से दिखना शुरू हो सकता है। जी दरअसल नए वैरिएंट के संक्रमितों में खांसी से लेकर डायरिया जैसे तमाम लक्षण देखे जा रहे हैं, हालाँकि कई बार ये आंखों से जुड़ी समस्याओं को भी ट्रिगर कर सकता है जो कि कोरोना के दूसरे वैरिएंट में भी सामान्य रूप से देखा जा रहा है। आप सभी को बता दें कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने 'आंखों से जुड़ी समस्या' को असामान्य या कम दिखाई देने वाले लक्षणों के रूप में सूचीबद्ध किया है।

वहीं इसमें आंखों से जुड़े एक या एक से ज्यादा लक्षण शामिल हो सकते हैं। सामने आने वाली रिपोर्ट को माने तो आंखों में गुलाबीपन या आंख के सफेद भाग और पलक की परत पर सूजन (कंजेक्टिवाइटिस) ओमिक्रॉन इंफेक्शन का लक्षण हो सकता है। इसी के साथ आंखों में लालपन, जलन और दर्द भी नए वैरिएंट के संक्रमण की निशानी है। वहीं आंखों से धुंधला दिखाई देना, लाइट सेंसिटिविटी या आंख से पानी बहना भी इसके लक्षण हो सकते हैं।

आप सभी को बता दें कि जून 2020 में प्रकाशित एक स्टडी का विश्लेषण यह बतलाता है कि कोरोना मरीजों में 5 प्रतिशत आंखों से जुड़ी समस्या कंजेक्टिवाइटिस का शिकार हो सकते हैं लेकिन केवल आंखों से जुड़े लक्षण दिखने का मतलब ये नहीं है कि आपको ओमिक्रॉन का संक्रमण है। जी दरअसल कई बार आंखों से जुड़ीं समस्याएं दूसरी वजहों से भी हो सकती हैं। इसलिए कोविड के अन्य लक्षणों पर भी गौर करें। आपको हम यह भी बता दें कि भारतीय शोधकर्ताओं ने कोरोना में आंखों से जुड़े लक्षणों को दुर्लभ माना है। जी दरअसल उनका कहना है कि ये किसी इंसान के संक्रमित होने का शुरुआती लक्षण हो सकता है और इसे एक प्रारंभिक चेतावनी समझा जा सकता है। वहीं दूसरी तरफ, कुछ स्टडीज ने आंखों से जुड़े लक्षणों की व्यापकता को अधिक बढ़ा दिया है।

वहीं एक स्टडी में यह भी दावा किया गया है कि, '35.8 फीसद हेल्दी लोगों की तुलना में 44 फीसद कोविड के मरीज आंखों से जुड़ी समस्याओं का सामना करते हैं। इसमें आंख से पानी बहना और लाइट सेंसिटिविटी जैसे लक्षण सबसे ज्यादा कॉमन हैं।' वहीं दूसरी तरफ यह भी कहा जा रहा है कि कोविड-19 के 83 मरीजों में से 17 प्रतिशत ने आंखों में जलन और 16 फीसद ने आंखों में दर्द महसूस किया। वहीं मरीज के रिकवर होने के साथ-साथ उसकी आंखों की कंडीशन में भी सुधार आ सकता है।

नए अध्ययन से पता चलता है, COVID19 टीकाकरण दीर्घकालिक सुरक्षा प्रदान करता है

कोरोना काल में सबसे कारगर गिलोय, डेंगू से गठिया तक के रोगों में फायदेमंद

8 महीने बाद एक दिन में 3 लाख से ज्यादा कोरोना के नए केस, इन दो राज्यों में सबसे ज्यादा नए मामले

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -