बीजेपी से नहीं बनी बात, अब इस्तीफे की तैयारी में राजभर

Apr 14 2019 01:07 PM
बीजेपी से नहीं बनी बात, अब इस्तीफे की तैयारी में राजभर

लखनऊ : प्रदेश की भाजपा सरकार में मंत्री रहते हुए भरी सभा में बीजेपी और योगी सरकार की खिंचाई करने वाली मंत्री ओमप्रकाश राजभर रविवार को सरकार के सभी पदों से इस्तीफा देंगे। दरअसल, कैबिनेट मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने यूपी में बीजेपी सरकार को समर्थन दिया है। 

जम्मू कश्मीर किसी की वसीयत नहीं, ये भारत का अभिन्न अंग- पीएम मोदी

ऐसा है पूरा मामला 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार, हालिया चुनाव के लिए दोनों दलों के बीच सीटों पर बात नहीं बन सकी, जिसके कारण राजभर इस्तीफा दे रहे हैं। राजभर के साथ उनके बेटे अरविंद राजभर भी अपने पद से इस्तीफा देंगे, वह लघु उद्योग निगम के चेयरमैन हैं। राजभर और उनके बेटे के साथ सुहेलदेव पार्टी के 6 अन्य सदस्यों ने भी इस्तीफे की पेशकश की है, जो निगम के अलग-अलग पदों पर आसिन हैं। 

जब हेमा मालिनी के लिए प्रचार करने पहुंचे धर्मेंद्र, लोगों से कही ये बात

मौके की थी तलाश 

इसी के साथ बताया जाता है कि राजभर ने योगी से मिलने का वक्त मांगा है, जिसके बाद वह इस्तीफा देंगे। बता दें कि मंत्री रहते हुए राजभर ने बीजेपी और सरकार की नाक में दम कर दिया। एक बार नहीं बल्कि कई बार उन्होंने मंच से भाजपा को चुनौती दी। यहां तक की उन्होंने अपनी मांग को लेकर बीजेपी को अल्टीमेटम भी दिया, लेकिन फिर भी बात नहीं बनी। इसलिए वह चुनावी महासमर के बीच भवर में अगल पारी खेलने की प्लानिंग कर रहे हैं। वहीं ऐसा लगता है राजभर के बयानबाजी से तंग आ चुकी बीजेपी पहले से ही राजभर को तौबा करने के एक मैके की तलाश में थी।

इस मशहूर अभिनेता ने दुनिया को कहा अलविदा, शौक में डूबे राजनीतिक दिग्गज

लोकसभा चुनाव: बिहार में ओवैसी का वार, नितीश-मोदी को बताया लैला-मजनू

बसपा ने जारी किए उम्मीदवारों के नाम, 16 नेताओं को मिला टिकट