ॐ शब्द से दूर हो जाएंगी आपकी सभी समस्या, करना होगा यह काम

Dec 17 2018 07:40 PM
ॐ शब्द से दूर हो जाएंगी आपकी सभी समस्या, करना होगा यह काम

कहा जाता है 'ॐ' शब्द का बहुत महत्व है और यह तीन अक्षरों से मिलकर बना है जो है- अ , ऊ और म. कहते हैं यह ईश्वर के तीन स्वरूपों ब्रह्मा, विष्णु और महेश का संयुक्त स्वरूप है और इसी शब्द में सृजन, पालन और संहार, तीनों शामिल हैं. कहते हैं इस शब्द को स्वयं ईश्वर ही माना जाता है और इसके जाप से बहुत कुछ पाया जा सकता है. इसी के साथ ऐसा भी मानते हैं कि यदि इस शब्द का सही प्रयोग किया जाय तो जीवन की हर समस्या को दूर किया जा सकता है और जल्द से जल्द हर ख़ुशी को पाया जा सकता है. कहते हैं इस शब्द का सही उच्चारण करने से ईश्वर की उपलब्धि मिल जाती है. ऐसे में आज हम आपको बताते हैं कि इसका उच्चारण कैसे किया जा सकता है.


- कहा जाता है ॐ शब्द का उच्चारण करने के लिए ब्रह्म मुहूर्त या साध्य काल का चुनाव करना चाहिए. वहीं उच्चारण करने के पूर्व इसकी तकनीक सीख लेनी चाहिए वरना पूरा लाभ नहीं मिल पता है. वहीं उच्चारण करते समय अपनी रीढ़ की हड्डी को सीधा रखनी चाहिए और जब आप ॐ का उच्चारण पूर्ण कर लें, तो अगले 10 मिनट तक जल का स्पर्श न करना चाहिए. कहते हैं हर दिन इस शब्द का उच्चारण करते रहने से दैवीयता का अनुभव होने लगता है.

आइए बताते हैं कि "ॐ" शब्द का सरल प्रयोग कैसे करें-

उत्तम स्वास्थ्य के लिए- सबसे पहले एक तुलसी का एक बड़ा पत्ता ले लें. उसके बाद उसे दाहिने हाथ में लेकर "ॐ" शब्द का 108 बार उच्चारण करें. अब पत्ते को पीने के पानी में डाल दें. पीने के लिए इसी पानी का प्रयोग करें.

मानसिक एकाग्रता तथा शिक्षा में सुधार के लिए- सबसे पहले एक पीले कागज़ पर लाल रंग से "ॐ" लिखें. अब "ॐ" के चारों तरफ एक लाल रंग का गोला बना दें. इसके बाद कागज़ को अपने पढ़ने के स्थान पर सामने लगा लें.

वास्तु दोष के नाश के लिए- सबसे पहले घर के मुख्य द्वार के दोनों तरफ सिन्दूर से स्वस्तिक बनाएं. अब मुख्य द्वार के ऊपर "ॐ" लिखें. ध्यान रहे कि यह प्रयोग मंगलवार को दोपहर को करें.

अमीर बनने के लिए सोमवार को शिव भगवान को चढ़ा दें यह फूल

एक ग्लास पानी पिलाने से आपको अपना सब कुछ देने को तैयार हो जाएगी भाभी

अगर इस रात दिख जाए बिल्ली तो समझ जाइए आपकी मौत पक्की है