नीरज चोपड़ा ने इस एथलीट को देखकर यूट्यूब से सीखा भाला फेंकना, अब मिली बड़ी सफलता

चेक रिपब्लिक के जेवलिन प्लेयर जैन जेलेजनी का अपने पूरे करियर में शायद ही इंडिया के साथ कोई कनेक्शन हो, मगर आज पूरा भारत उनका आभार जता सकता है। दरअसल, अनजाने में ही सही, मगर जेलेजनी की नीरज चोपड़ा की भाला फेंक की तकनीकियों में सुधार में बड़ा किरदार है। नीरज चोपड़ा ने टोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक को अपने नाम कर भारतीय खेलों में एक नए युग का आरम्भ किया है। 

प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार, नीरज चोपड़ा ने आरम्भ में यूट्यूब पर जैन जेलेजनी के वीडियो देखकर उनकी भांति भाला फेंकना सीखा। 2018 में चोट के पश्चात् भले ही उन्होंने अपना एक्शन बदल लिया हो, मगर भाला फेंकते समय वे जेलेजनी के तरीके को ही अपनाते रहे। नीरज ने अपने करियर की सबसे बड़ी कामयाबी हासिल कर ली है। हालांकि, इसके पीछे उनकी कई वर्ष की मेहनत है। नीरज ने बहुत कम आयु में ही पंचकूला के ताऊ देवी लाल स्टेडियम में भारतीय खेल प्राधिकरण सेंटर में जूनियर एथलीट के रूप में आरम्भ किया। उन्होंने यहां चार वर्ष अभ्यास किया तथा कई समारोह में बहुत सारे रिकॉर्ड तोड़े। 

साथ ही नीरज ने 2012 में 14 वर्ष की आयु में लखनऊ में 68.46 मीटर भाला फेंककर नेशनल जूनियर चैंपियनशिप जीती। यह राष्ट्रीय मंच पर उनका प्रवेश था। उन्होंने अगले वर्ष सुधार कर केरल में 69.66 मीटर भाला फेंका। तत्पश्चात, वे 2014 में 70 मीटर पहुंचे। 2015 में नीरज ने पटियाला में इंटरवर्सिटी चैंपियनशिप में 81.04 मीटर भाला फेंक कर स्वर्ण पदक जीता।

टीम यूएसए ने फ्रांस को इतने 87-82 से दी मात

1860 दिन वर्ल्ड नंबर 1 रह चुके हैं रोजर फेडरर, विराट इन्हे मानते हैं 'असली लीजेंड'

केन्या के एलियुड किपचोगे ने सफलतापूर्वक ओलंपिक मैराथन खिताब रखा बरक़रार 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -