ओडिशा में भारी बारिश को लेकर जारी किया गया अलर्ट, बढ़ सकती है लोगों की परेशानी

ओडिशा के लोग इस बात को लेकर चिंतित हैं कि राज्य में खासकर मुंडाली और कटक शहर के आसपास के इलाकों में बाढ़ की स्थिति अगले 24-48 घंटों में और खराब हो सकती है। महानदी और सुवर्णरेखा नदी घाटियों का एक बड़ा हिस्सा पानी के भीतर चला गया है और ओडिशा की सभी सात प्रमुख नदियां उफान पर हैं। इस सप्ताह की शुरुआत में तटीय राज्य में दबाव के कारण हुई भारी बारिश में कम से कम नौ लोगों की मौत हो गई थी।

विशेष राहत आयुक्त (एसआरसी) पीके जेना ने कहा कि राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ), ओडिशा आपदा त्वरित कार्रवाई बल (ओडीआरएएफ) और ओडिशा अग्निशमन सेवा के बचाव दल को संवेदनशील इलाकों में भेजा गया है। “हम शनिवार तक कटक के पास मुंडाली में महानदी नदी प्रणाली में लगभग 8 लाख क्यूसेक पानी के प्रवाह की उम्मीद कर रहे हैं, जबकि सुवर्णरेखा नदी में जल स्तर भी बढ़ रहा है, जिससे सुवर्णरेखा नदी में जल स्तर अपने चरम पर होने की उम्मीद है। 

इस बीच, रिपोर्टों में कहा गया है कि महानदी का बाढ़ का पानी पहले ही कृषि क्षेत्रों और कटक और खुर्दा जिलों के कुछ गांवों में पहुंच गया है, जबकि सुवर्णरेखा नदी का पानी बलियापाल और भोगराई ब्लॉक के लगभग 30 गांवों बाढ़ का शिकार हो चुके हैं और पूरी तरह से डूब गए है।

'उरी अटैक' के बाद देशभर में फ़ैल गया था आक्रोश, इस तरह लिया था 'पाक' से बदला

अपने जन्मदिन पर रिकॉर्ड वैक्सीनेशन देख बोले PM मोदी- 'हर भारतीय को गर्व होगा'

सुप्रीम कोर्ट ने केरल सरकार को ग्यारहवीं कक्षा के लिए ऑफ़लाइन परीक्षा आयोजित करने की दी अनुमति

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -