हॉकी टीम को ओडिशा सरकार ने दिया पुरस्कार

हॉकी वर्ल्ड लीग फाइनल 2017 में रविवार को भारतीय टीम ने जर्मनी को 2-1 से हराकर ब्रोंज मेडल जीता. इस जीत के बाद ओडिशा सरकार ने भारतीय टीम के हर खिलाडी और मुख्य कोच शोर्ड मारिन को 10-10 लाख रूपए नकद पुरस्कार दिया. यह मैच ओडिशा के कलिंगा स्टेडियम में खेला गया था, इस दौरान ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक भी मौजूद थे. 

उल्लेखनीय है कि हॉकी वर्ल्ड लीग फाइनल में ब्रोंज मेडल जीतने पर भारतीय खिलाड़ियों को ओडिशा सरकार ने 10-10 लाख रूपए का चेक दिया, कोच मारिन को 10 लाख और बाकी सहयोगी स्टाफ को 5-5 लाख रुपये का चेक दिया गया. ओडिशा में अगले साल सीनियर पुरुष हॉकी वर्ल्ड कप होने वाला है. यहाँ 2014 में भी हॉकी चैंपियंस ट्रोफी खेली गई थी. रविवार को हॉकी इंडिया ने भी कई पुरस्कारों की घोषणा की, जिसमे भारतीय टीम को सर्वश्रेष्ठ टीम गोल जश्न का पुरस्कार दिया गया. भारतीय हॉकी टीम के ड्रैग फ्लिकर रुपिंदर पाल सिंह ने फैंस चॉइस पुरस्कार जीता, उन्हें एक लाख रुपये का चेक दिया गया. बेल्जियम टीम को सर्वाधिक गोल के लिए एक लाख रूपए का पुरस्कार दिया गया.

बता दे कि हॉकी वर्ल्ड लीग फाइनल के तीसरे स्थान के लिए खेलते हुए भारतीय हॉकी टीम ने जर्मनी को 2-1 से हराया. भारत के लिए का पहला गोल एसवी सुनील ने 20वें मिनट में किया. जर्मनी के लिए पहला गोल 36वें मिनट में रिजर्व गोलकीपर मार्क एपल ने किया.

हॉकी वर्ल्ड कप- भारत ने बेल्जियम को दी मात

मैं यह मैच दोबारा कभी नहीं देखूंगा- शोर्ड मारिन

भारत ने पेनल्टी कॉर्नर में भी अच्छा प्रदर्शन किया- मारिन

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -