अभिनय के बाद पॉलिटिक्स में भी अपनी काबिलियत दिखा चुके है NT रामा राव

तेलुगू मूवीज के मशहूर एक्टर नन्दमूरी तारक रामाराव को NTR के नाम से भी पहचाना जाता है। NTR ने वर्ष 1949 में तेलुगू मूवी 'मना देसम' से अपने मूवी करियर की शुरुआत कर दी थी। उन्होंने तकरीबन 300 से अधिक मूवीज की। एक्टिंग के साथ साथ उन्होंने कई मूवीज की पटकथा लिखी और फिल्म निर्माता के तौर पर कई मूवीज बनाई भी हैं। भारतीय सिनेमा में योगदान के लिए इंडिया गवर्नमेंट ने रामाराव को वर्ष 1968 में पद्मश्री से सम्मानित किया था। तेलुगू के अलावा NTR ने तमिल और हिंदी मूवी भी कीं। वो एक ऐसे अभिनेता रहे जिन्होंने अपने करियर में 17 बार कृष्ण का किरदार अदा किया। इन मूवीज में ‘श्री कृष्णार्जुन युधम’, ‘कर्णं’ और ‘दानवीर सूर कर्ण’ बहुत पॉपुलर हैं। यह रिकॉर्ड बनाने वाले NT रामा राव पहले ऐसे इंडियन एक्टर हैं। बाद में NTR ने पौराणिक मूवीज छोड़ ऐसे रोल करना शुरू कर दिया जिसका नायक व्यवस्था के विरुद्ध लड़ता था। 

NTR  ने 1982 में एक पार्टी की स्थापना की और पॉलिटिक्स में भी हिस्सा ले लिया है। फेमस अभिनेता होने के चलते NTR और उनकी पार्टी को जबरदस्त कामयाबी हासिल कर ली। इसी के साथ वो आंध्र प्रदेश के 10वें मुख्यमंत्री बन गए थे। 1983 से 1994 के बीच वो तीन बार -प्रदेश के मुख्यमंत्री बन गए। ऐसा बोला जाता है  कि एनटीआर ने राजीव गांधी से बदला लेने के लिए यह पार्टी बनाई थी और जब पार्टी चुनाव में उतरी तो भारी बहुमत से विजयी हो चुके है। आज प्रदेश की वह प्रमुख राजनीतिक पार्टी है। बात हो रही है तेलुगुदेशम पार्टी (टीडीपी) की, जिसकी नींव एक एक्टर ने समाज सुधारने के लिए या लोगों की भलाई के लिए नहीं, राजीव गांधी से बदला लेने के लिए रखी गई थी।

NTR की पर्सनल लाइफ के बारें में बात की जाए तो उन्होंने 1942 में अपने मामा की बेटी बासव तारकम से विवाह किया था। एनटीआर के 8 बेटे और 4 बेटियां थीं। 1985 में उनकी पत्नी का देहांत हो चुके है। सन 1993 में 70 साल की उम्र में रामा राव ने तेलुगु लेखक लक्ष्मी पार्वती से शादी की थी लेकिन एनटीआर के परिवार ने लक्ष्मी को कभी भी स्वीकार नहीं किया जा चुका है। NTR का पोता जूनियर एनटीआर साउथ की मूवीज में जाना-माना नाम है। बता दें कि राजनीतिक जीवन में रामाराव को काफी मुश्किल भरे दिन देखने पड़ गए थे। दामाद चंद्रबाबू नायडू ने NTR को सीएम और पार्टी अध्यक्ष दोनों पदों से हटाया गया था। अपनी दूसरी पत्नी लक्ष्मी पार्वती के साथ रामाराव एक तरफ थे और दूसरी तरफ उनका भरापूरा परिवार उनके विरुद्ध था। 

पुणे में डिजिटल टेक्नोलॉजी हब स्थापित करेगी भारती एयरटेल

टेक्नोलॉजी दिवस पर Koo एप के CEO ने की सीएम योगी से मुलाकात

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस पर इन दिग्गज नेताओं ने दी शुभकामनाएं

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -