एनपीएफ के दरवाज़े बीजेपी के लिए खुले हैं - जे़लियांग

नागालैंड की राजनीति एक दिलचस्प मोड़ पर आ चुकी है .सीटों के बारे में समझौता नहीं होने पर बीजेपी ने नागालैंड के मुख्यमंत्री टीआर ज़ेलियांग की पार्टी एनपीएफ से नाता तोड़कर एनडीपीपी से गठबंधन कर लिया. इस पर नागालैंड के मुख्यमंत्री टीआर ज़ेलियांग ने कहा कि एनपीएफ के दरवाज़े बीजेपी के लिए अब भी खुले हैं.

इस बारे में नागालैंड के मुख्यमंत्री टीआर ज़ेलियांग ने बुधवार को कहा कि बीजेपी और एनपीएफ  का 15 साल पुराना गठबंधन अभी ख़त्म नहीं हुआ है. हालाँकि दोनों पार्टियां एक-दूसरे के खिलाफ लड़ रही हैं, फिर भी एनपीएफ के दरवाज़े बीजेपी के लिए बंद नहीं हुए हैं. ज़ेलियांग ने कहा कि मेरी कैबिनेट में अभी भी पी. पाइवांग कोनयाक मंत्री हैं जो बीजेपी से हैं. यही नहीं बीजेपी के ही एक सलाहकार टी.एन. लोथा भी कैबिनेट रैंक के मंत्री हैं.अब फैसला बीजेपी को करना है.

उधर नागालैंड बीजेपी के राज्य प्रमुख विसासोली ल्होऊंगू ने भी मंजूर किया कि अभी गठबंधन समाप्त नहीं होने से एनपीएफ से साथ संबंध खत्म नहीं हुए हैं. बता दें कि इसके पहले एनपीएफ व बीजेपी के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर असहमति हो गई थी .एनपीएफ, बीजेपी को दस सीटें भी नहीं दे रही थी. इस पर एनडीपीपी ने बीजेपी को 40 में से 20 सीटों पर चुनाव लड़ने का प्रस्ताव देकर बीजेपी के साथ गठबंधन कर लिया.ऐसी दशा में बीजेपी-एनडीपीपी गठबंधन के मुख्यमंत्री उम्मीदवार नेफ्यू रियो के लिए ऊहापोह की स्थिति बन गई है.

यह भी देखें

त्रिशंकु बनी बनामलिपुर सीट पर सबकी नजरें टिकीं

राहुल का कर्नाटक प्लान

 

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -