अब स्कूल बसो में किन्नर दिखेंगे सहायक के तौर पर

Sep 19 2015 02:32 PM
अब स्कूल बसो में किन्नर दिखेंगे सहायक के तौर पर

चंडीगढ़. हरियाणा और पंजाब के स्कूलों की बसों में हाल ही के दिनों में किन्नर सहायक के तौर पर नजर आ सकते है. पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के आदेश पर दोनों राज्यों ने अपनी सेफ स्कूल वाहन पॉलिसी को संशोधित किया है और किन्नारों को सहायक बनाने पर मंजूरी दे दी है. चंडीगढ़ के स्टेपिंग स्टोन स्कूल की बस में एक बच्ची से छेड़छाड़ घटना के मद्देनजर पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में स्कूल बसों में सफर करने वाले बच्चों की सुरक्षा को लेकर चल रहे केस की सुनवाई के दौरान यह कदम उठाया गया था.

इस दौरान हाईकोर्ट ने हरियाणा, पंजाब और यूटी प्रशासन को भी निर्देश जारी कर दिए है और कहा था कि वे बसों में महिला सहायकों की अनिवार्यता पर भी अपना जवाब दाखिल करें. वही स्कूलों ने इस बात पर असमर्थता जताई थी. इसी दौरान जस्टिस भल्ला ने कहा था कि यदि महिला सहायक के तौर नहीं तो किन्नारों को बस में सहायक लगाने के विकल्प पर विचार किया जाये. इस सुझाव का सभी ने स्वागत किया था. शुक्रवार को सुनवाई आरंभ होते ही हरियाणा और पंजाब सरकार ने हाईकोर्ट को इस बात की जानकारी दे दी कि उन्होंने उनकी सेफ स्कूल वाहन पॉलिसी में किन्नारों को सहायक बनाने का प्रावधान जोड़ लिया है.