नोटा को भी मिला अपना चिह्न

नई दिल्ली : साल 2013 में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) पर पेश किया गया ‘इनमें से कोई नहीं’ (नोटा) के विकल्प का भी अब अपना चिह्न होगा, यह चिन्ह मतपत्र पर काले रंग के ‘क्रॉस’ के रूप में होगा. इस चिन्ह का इस्तेमाल पहली बार बिहार विधानसभा चुनाव के मत पत्रों पर किया जाएगा. यह चिन्ह ‘इनमें से कोई नहीं’ (नोटा) विकल्प के सामने होगा. आज चुनाव आयोग ने बताया कि इस चिह्न का डिजाइन नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन , अहमदाबाद ने आयोग के लिए तैयार किया है.

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद साल 2013 में नोटा का बटन EVM में जोड़ा गया था. यह विकल्प EVM के आखिरी विकल्प के रूप में जोड़ा गया था. 2014 में हुए आम चुनाव में करीब 60 लाख लोगों ने ‘नोटा’ का उपयोग किया था.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -