अब इन छोटे उद्योगों को मिल पाएगा 50 लाख तक का होम लोन

अब इन छोटे उद्योगों को मिल पाएगा 50 लाख तक का होम लोन

दिल्ली में आईसीआईसीआई होम फाइनेंस ने असंगठित स्थान में कार्य करने वाले कुशल मजदूरों के लिए नई लोन स्कीम 'अपना घर ड्रीम्ज' का आरम्भ किया है। कंपनी इस स्कीम के तहत दो लाख रुपये से लेकर 50 लाख रुपये तक का लोन प्रदान करेगी। यह स्कीम कारपेंटर, पलम्बर, इलेक्ट्रिशियन, टेलर, पेंटर, वेल्टर, ऑटो मैकेनिक, मैन्युफैक्चरिंग मशीन ऑपरेटर, कंप्यूटर मैकेनिक्स, आरओ रिपेयर टेक्नीशियन, छोटे एवं मझोले व्यापर के ओनर तथा किराने की दुकान चलाने वाले व्यक्तियों के लिए है।

वही आईसीआईसीआई होम फाइनेंस की तरफ से जारी एक प्रेस रिलीज में यह कहा गया है कि यह लोन स्कीम भारत के अनौपचारिक इलाके के व्यक्तियों के लिए है, जो अपना घर क्रय करना चाहते हैं किन्तु लोन लेने के लिए सभी आवश्यक दस्तावेज नहीं जुटा पाते हैं। साथ ही कंपनी की तरफ से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि 20 वर्ष की अवधि के लोन के लिए पैन कार्ड, आधार कार्ड तथा छह महीने के बैंक स्टेटमेंट जैसे दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। पांच लाख रुपये तक के लोन के लिए कस्टमर के अकाउंट में 1,500 रुपये की न्यूनतम रकम होनी चाहिए। वहीं पांच लाख रुपये तक के लोन के लिए 3,000 की राशि होनी चाहिए। 

साथ ही आईसीआईसीआई होम फाइनेंस के मेनेजिंग डायरेक्टर तथा सीईओ अनिरुद्ध कमानी ने कहा, ''आईसीआईसीआई होम फाइनेंस में हमारा उद्देश्य इकोनॉमी से संबंधित अनौपचारिक स्थान के मेहनतकश पेशेवरों तथा क्षेत्रीय स्तर पर व्यवसाय करने वाले व्यक्तियों के 'अपने घर' के सपने को साकार करना है।'' आगे कमानी ने कहा, "हमारे ब्रांच के कर्मचारियों तथा क्षेत्रीय निवासियों को स्थानीय अर्थव्यवस्था की समझ होती है, वहीं हमारी विधिक टीम एवं टेक्निकल एक्सपर्ट कम-से-कम दस्तावेज के साथ होम लोन के आवेदन को त्वरित ढंग से प्रोसेस करते हैं।" वही मध्यम वर्गीय व्यापार के लिए ये एक अच्छा अवसर है। 

आम आदमी को मिली बड़ी राहत, पेट्रोल-डीज़ल के दामों में भारी कटौती

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने रचा इतिहास, तोड़ा बाजार पूंजीकरण का रिकॉर्ड

श्रम मंत्री ने किया दावा, कोरोना महामारी के दौरान 2 करोड़ मजदूरों को भेजे गए 5,000 करोड़ रूपये