खाना खाने की इच्छा नहीं होती है तो यह आजमाए

भूख नही लगने पर आधा माशा फ़ूला हुआ सुहागा एक कप गुनगुने पानी में दो तीन बार लेने से भूख खुल जाती है. काला नमक चाटने से गैस खारिज होती है, और भूख बढती है, यह नमक पेट को भी साफ़ करता है. हरड का चूर्ण सौंठ और गुड के साथ अथवा सेंधे नमक के साथ सेवन करने से मंदाग्नि ठीक होती है.

सेंधा नमक, हींग अजवायन और त्रिफ़ला का समभाग लेकर कूट पीस कर चूर्ण बना लें. इस चूर्ण के बराबर पुराना गुड लेकर सारे चूर्ण के अन्दर मिला दें और छोटी छोटी गोलियां बना लें. रोजाना ताजे पानी से एक या दो गोली लेना चालू कर दे,यह गोलियां खाना खाने के बाद ली जाती है,इससे खाना पचेगा भी और भूख भी बढेगी. 

अजवायन चालीस ग्राम सेंधा नमक दस ग्राम दोनो को कूट पीस कर एक साफ़ बोतल में रखलें. इसमे दो ग्राम चूर्ण रोजाना सवेरे फ़ांक कर ऊपर से पानी पी लें. इससे भूख भी बढेगी और वात वाली बीमारियां भी समाप्त होंगी. हरड को नीब की निबोलियों के साथ लेने से भूख बढती है और शरीर के चर्म रोगों का भी नाश होता है. 

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -