परमाणु परिक्षण केंद्र बंद करने के लिए सहमत हुआ उत्तर कोरिया

प्योंगयेंग: दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जाए इन ने बुधवार को कहा कि उत्तरी कोरिया विदेशी विशेषज्ञों की उपस्थिति में अपनी प्रमुख मिसाइल सुविधाओं को समाप्त करने के लिए "स्थायी रूप से" सहमत हो गया है, और यदि संयुक्त राज्य अमेरिका पारस्परिक कार्रवाई करता है तो उत्तर कोरिया मुख्य परमाणु परिसर बंद करने के लिए भी तैयार है.

पाकिस्तान को इमरान का झटका, 143 फीसदी बढ़ाये गैस के दाम

प्योंगयांग में उनके शिखर वार्ता के बाद संयुक्त समाचार सम्मेलन में बोलते हुए, मून जाए इन और उत्तरी कोरियाई नेता किम जोंग उन ने कहा कि वे कोरियाई प्रायद्वीप को परमाणु हथियारों और परमाणु खतरों के बिना शांति की भूमि में बदलने के लिए सहमत हो गए हैं. किम ने कहा कि वह निकट भविष्य में दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल जाएंगे. उत्तर कोरियाई राष्ट्रपति किम जोंग उन अगर सियोल जाते हैं तो यह उनकी पहली यात्रा होगी.

हिंदी फिल्म को भी नहीं छोड़ रहे पाकिस्तानी जमकर उड़ रहा मज़ाक

आपको बता दें कि उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम रोकने के लिए अमेरिकी ट्रम्प प्रशासन ने किम जोंग पर काफी दबाव बनाया था. जिसके बाद दोनों में तीखी बयानबाज़ी भी हुई थी, लेकिन दोनों के बीच सिंगापूर में हुई शिखर वार्ता के बाद उत्तर कोरिया के राष्ट्रपति किम जोंग उन परमाणु परीक्षणों पर लगाम लगाने के लिए सहमति दी थी. इसके बाद अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ कई बार उत्तर कोरिया की यात्रा कर इस बात की पुष्टि कर चुके हैं कि उत्तर कोरिया परमाणु परिक्षण नहीं कर रहा है. 

खबरें और भी:-​

केन्या के अस्पताल में मिले 12 नवजातों के शव, डॉक्टर समेत कई निलंबित

आतंक के मामले पर UN में भारत ने पाकिस्तान को लगाई फटकार

5 महीने में तीसरी बार दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति से मिले किम जोंग

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -