कोरोना संकट में भी नहीं मान रहा उत्तर कोरिया, परमाणु क्षमता बढ़ाने पर कर रहा काम

सियोल: पूरी दुनिया इस समय वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संकट से जूझ रहा है तो वहीं उत्तर कोरिया ने परमाणु मारक क्षमता और परमाणु युद्ध निरोध को बढ़ावा देने के लिए एक नई नीति बनाई है। उत्तर कोरिया के सुप्रीम लीडर किम जोंग उन के नेतृत्व में केंद्रीय सैन्य आयोग की यह मीटिंग हुई है। उत्तर कोरिया की सरकारी समाचार एजेंसी KCNA ने इस संबंध में जानकारी दी है।

समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी के केंद्रीय सैन्य आयोग की मीटिंग में महत्वपूर्ण सैन्य क्षमता और सशस्त्र बलों के विकास के लिए संगठनात्मक और राजनीतिक उपायों को लेकर विचार-विमर्श किया गया। साथ ही कोरियाई पीपुल्स आर्मी के तोपखानों की टुकड़ियो की मारक क्षमता में वृद्धि को लेकर बातचीत हुई।WPK की केंद्रीय समिति के केंद्रीय सैन्य आयोग की यह पहली मीटिंग है जिसमें एक मई के बाद कोरियाई तानाशाह किम जोंग उन पहली बार सार्वजनिक रूप से नजर आए हैं। 

इससे पहले वह सुनचोन शहर में फॉस्फेटिक उर्वरक के कारखाने के उद्घाटन के मौके पर नजर आए थे। दरअसल, डब्ल्यूपीके उत्तर कोरिया की संस्थापक एवं सत्तारूढ़ पार्टी है। इस बैठक में सेना के संगठनात्मक मुद्दों पर प्रमुख रूप से मंथन किया गया। किम जोंग उन ने सैन्य कमान प्रणाली में सुधार के लिए एक सरकारी आदेश (डिक्री) पर दस्तखत भी किए।

कोरोना की मार से पाक हुआ परेशान, नहीं मिल रहा कोई भी समाधान

OMG! पानी की कमी वाले शहर बन सकते है कोरोना का अगला शिकार

44.2Tbps की स्पीड से चला इंटरनेट, ऑस्ट्रेलिया ने बनाया रिकॉर्ड

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -