कर्नाटक के पूर्व सीएम येदियुरप्पा के खिलाफ गैर जमानती वारंट, दिल्ली से आते ही गिरफ्तार करेगी पुलिस

कर्नाटक के पूर्व सीएम येदियुरप्पा के खिलाफ गैर जमानती वारंट, दिल्ली से आते ही गिरफ्तार करेगी पुलिस
Share:

बैंगलोर: कर्नाटक के गृह मंत्री जी परमेश्वर ने आज शुक्रवार (14 जून) को कहा कि नाबालिग लड़की के कथित यौन उत्पीड़न के मामले में पूर्व मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया गया है और पुलिस पोस्को मामले में पूछताछ के लिए भाजपा नेता को लाने की तैयारी में है। परमेश्वर के अनुसार, माना जा रहा है कि येदियुरप्पा फिलहाल दिल्ली में हैं और उन्होंने संकेत दिया है कि वह 17 जून, सोमवार को वापस आएंगे और आगे की कार्रवाई की जाएगी। 

उल्लेखनीय है कि, पूर्व सीएम येदियुरप्पा के खिलाफ गुरुवार को नाबालिग लड़की के कथित यौन उत्पीड़न के मामले में यौन अपराधों से बच्चों की रोकथाम (पोक्सो) अधिनियम के तहत गैर-जमानती वारंट जारी किया गया। परमेश्वर ने शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा कि, "येदियुरप्पा के लिए वारंट जारी किया गया है। पुलिस उन्हें अपने साथ लाएगी और मामले से जुड़ी सारी जानकारी जुटाएगी। उसके बाद कानूनी कार्रवाई की जाएगी। ऐसी जानकारी है कि वह दिल्ली में हैं। उन्होंने कहा कि वह सोमवार, 16 जून को आएंगे।" 

इस बीच, भाजपा ने आरोप लगाया है कि मंत्री बी नागेंद्र से जुड़े भ्रष्टाचार के मामले से ध्यान हटाने के लिए कांग्रेस ने यह साजिश रची है। हुबली में पत्रकारों से बात करते हुए भाजपा विधायक महेश टेंगिनकाई ने कहा कि, "यह कांग्रेस की साजिश का हिस्सा लगता है, लेकिन बीएस येदियुरप्पा इस मामले से बेदाग निकलेंगे।" कर्नाटक भाजपा ने कल अपने एक्स हैंडल पर पोस्ट किया था, "लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार से आहत कांग्रेस के नेता भाजपा के खिलाफ एक के बाद एक साजिश रचने में लगे हैं।" 

पोस्ट में आगे लिखा था कि, "भाजपा से नाराज कांग्रेस अब मानसिक रूप से अस्थिर महिला की शिकायत के आधार पर हमारे सम्मानित नेता बीएस येदियुरप्पा को गिरफ्तार करने की कोशिश कर रही है। यह तब हुआ है जब राहुल गांधी को कर्नाटक में भाजपा के खिलाफ गलत सूचना फैलाने के लिए अदालती कार्यवाही का सामना करना पड़ा।" भाजपा के आरोप पर परमेश्वर ने कहा कि, "भाजपा ऐसा ही कहती है। उन्होंने वीडियो FSL को भेजा था, रिपोर्ट आनी चाहिए, है न? सभी जांच प्रक्रिया के अनुसार होनी चाहिए। येदियुरप्पा वरिष्ठ व्यक्ति हैं और वीआईपी में से एक हैं, इसलिए सभी चीजों की जांच होनी चाहिए। येदियुरप्पा के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट है। अगर वह जल्द ही आ जाएं तो अच्छा रहेगा। राहुल गांधी इसमें शामिल नहीं हैं। भाजपा सिर्फ कहानी बना रही है। इसका कोई मतलब नहीं है।"

गौरतलब है कि मार्च में पीड़िता की मां ने बेंगलुरु के सदाशिवनगर पुलिस स्टेशन में येदियुरप्पा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी, जिसमें आरोप लगाया गया था कि पूर्व मुख्यमंत्री ने उनकी बेटी का यौन शोषण किया है। इस संबंध में पीड़िता के भाई ने कोर्ट में याचिका दायर की थी। याचिका पर सुनवाई कर रही फास्ट ट्रैक कोर्ट ने येदियुरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी करते हुए उनकी तत्काल गिरफ्तारी का निर्देश दिया। येदियुरप्पा के कार्यालय से जारी बयान के अनुसार, उन्होंने गिरफ्तारी से बचने के लिए विशेष कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए आवेदन किया है।

कर्नाटक के 7 लोग बन गए 'इस्लामिक स्टेट' के आतंकी, भारत में खलीफा राज स्थापित करने की खतरनाक साजिश

साइबर क्राइम गिरोह पर असम पुलिस का बड़ा एक्शन, मेराजुल-इसादुल समेत 10 अपराधी गिरफ्तार, कई सामान बरामद

कुवैत से केरल पहुंचे 45 भारतीयों के शव, सीएम पिनाराई विजयन समेत कई नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -