नोएडा में पटरी पर लौट रही जिंदगी, सैमसंग ने 3000 कर्मचारियों के साथ शुरू किया काम

नोएडा: कोरोना वायरस महामारी से जूझ रहे उत्तर प्रदेश के बिजनेस हब नोएडा में धीरे-धीरे जिंदगी पटरी पर लौट रही है। नोएडा के सेक्टर 81 स्थित सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स के प्लांट में काम आरंभ हो चुका है। शुक्रवार को 3000 कर्मचारियों के साथ कंपनी ने अपना काम शुरू किया है। इन सभी कर्मचारियों को बसों द्वारा फैक्ट्री तक लाया गया था।

सरकार ने लॉकडाउन के तीसरे चरण में सीमित कर्मचारियों के साथ फैक्ट्री के संचालन को स्वीकृति दे दी है। 35 एकड़ में फैली इस फैक्ट्री का उद्घाटन पीएम मोदी और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन द्वारा किया गया था। यह विश्व की सबसे बड़ी मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग इकाई है। नोएडा में दुकानदार, कारोबारी और प्राइवेट कर्यालय वालों ने जिला प्रशासन के आदेशों के बाद आवश्यक एहतियात के साथ अपने प्रतिष्ठान खोल दिए हैं। इसमें ये लोग स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी सभी आवश्यक गाइडलाइंस का पालन कर रहे हैं।

सेक्टर 25 जलवायु विहार में मदान रिटेल स्टोर पर लोगों को बगैर मास्क के स्टोर में एंट्री नहीं दी जा रही है। प्रवेश से पहले ग्राहकों की थर्मल स्कैनिंग हो रही है। स्टोर संचालक राजेंद्र मदान ने जानकारी देते हुए बताया है कि हम सभी को कोरोना से लड़ने के लिए आवश्यक गाइडलाइंस का पालन करना होगा, तभी हम इस महामारी से निपट पाएंगे। दुकान में सेल्समैन सामान निकालने में लोगों की सहायता भी कर रहे हैं। साथ ही सलाह दे रहे हैं कि कोई भी अधिक देर तक एक जगह खड़ा न हो और पर्याप्त दूरी पर खड़े होकर सामान खरीदे।

सरकार दे रही सबसे सस्ता सोना खरीदने का मौका ! सोमवार से शुरू हो रही है ये स्कीम

इस बड़ी कंपनी ने Reliance Jio में लगाए करोड़ों रुपए, एक हफ्ते में तीसरा बड़ा निवेश

पाकिस्तान में पेट्रोलियम पदार्थों के दाम घटे, वहीं भारत में इससे सरकारी खजाने भरने की कवायद

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -