किशोरी के साथ 7 साल से 'डिजिटल रेप' करता रहा 80 साल का चित्रकार, हुआ गिरफ्तार

नोएडा: दिल्ली से सटे नोएडा में 80 साल के चित्रकार को नाबालिग के साथ कथित 'डिजिटल रेप' (Digital Rape) के आरोप में बीते रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस मामले में पुलिस ने कहा कि आरोपी बुजुर्ग 17 वर्षीय पीड़िता के साथ उसके अभिभावक के रूप में रह रहा था और सात साल से अधिक से उसका यौन शोषण कर रहा था। जी हाँ और इस मामले में पीड़िता ने सेक्टर-39 थाने में आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी, जिसके बाद पुलिस ने आरोपी व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है। आप सभी को बता दें कि मूलरूप से इलाहाबाद निवासी आरोपी मौरिस राइडर अपनी एक महिला दोस्त के साथ थाना क्षेत्र के एक सेक्टर में किराये पर रहता है।

मिली जानकारी के तहत मौरिस राइडर चित्रकार है और आरोपी की महिला दोस्त के संरक्षण में एक 17 साल की किशोरी भी रहती है। इस मामले में किशोरी का आरोप है कि मौरिस राइडर पिछले कई सालों से उसका यौन शोषण कर रहा है। जी दरअसल पीड़िता ने पुलिस को बताया कि जब वह दस साल की थी, तभी से आरोपी उसका यौन शोषण कर रहा था और विरोध करने पर मारपीट करता था। जी दरअसल पीड़िता ने बताया आरोपी अक्सर उसे मोबाइल पर टीवी पर अश्लील वीडियो दिखाता था और इसी के साथ पीड़िता ने आरोपी की कई वीडियो और ऑडियो रिकॉर्डिंग भी पुलिस को सौंपी हैं।

इस पूरे मामले में पुलिस ने किशोरी को मेडिकल जांच के लिए जिला अस्पताल भेजा और रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी को उसके निवास से गिरफ्तार कर लिया। जी दरअसल पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 376, 323, 506 और पॉक्सो एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज की है। क्या है 'डिजिटल रेप' का अर्थ- जी दरअसल इसका अर्थ है प्रजनन अंग के अलावा किसी अन्य वस्तु का उपयोग करके किसी महिला/लड़की के साथ जबरन यौन संबंध बनाना। यह बलात्कार के दायरे में नहीं आता था बल्कि 2012 के निर्भया कांड के बाद इसे जोड़ा गया था।

दिल्ली: सीवर साफ करने उतरे 3 मजदूरों पर गिरी सीमेंट की भारी स्लैब, एक की मौत

बुद्ध की जयंती पर जाति-भेद को जीवन से त्यागने का लें संकल्प: मायावती

दक्षिण कोरियाई एयरलाइंस अंतरराष्ट्रीय मार्गों पर रिकॉर्ड ईंधन अधिभार लगाएगी

Most Popular

- Sponsored Advert -