EMI माफ़ हो, सरकार चुकाए क़र्ज़, केंद्र को अभिजीत बनर्जी ने दिया सुझाव

नई दिल्ली: नोबेल पुरस्कार विजेता इकोनॉमिस्ट डॉ. अभिजीत बनर्जी ने कहा है कि लोन की ईएमआई सिर्फ टालने से कोई फायदा नहीं होने वाला. उन्होंने कहा कि कुछ दिनों के लिए ईएमआई पूरी तरह से माफ कि जानी चाहिए और इसका भुगतान  सरकार द्वारा किया जाना चाहिए.

कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ बातचीत में भारतीय मूल के अर्थशास्त्री ने यह बात कही. इस बातचीत का  प्रसारण मंगलवार को कांग्रेस के सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म परकिया गया. बनर्जी ने कहा कि, 'मुझे लगता है कि हम इसे MSME सेक्टर के लिए आसानी से लागू कर सकते हैं और वह उचित भी होगा कि हम कुछ दिनों के लिए कर्ज वसूली पर रोक लगा सकते हैं. हम इससे अधिक भी कर सकते हैं. हम यह भी कह सकते हैं कि इस तिमाही के लोन को सरकार चुकाएगी, केवल कर्ज की अदायगी को आगे-पीछे करने की जगह इसे माफ ही कर दिया जाना सही रहेगा.'

बनर्जी ने कहा कि, 'मांग में कमी का मुद्दा है. दो चिंताएं हैं, पहली कि कैसे दिवालिया होने की श्रृंखला को टालें, कर्जमाफी एक विकल्प हो सकता है. दूसरा है मांग में कमी का, और लोगों के हाथ में पैसा देकर इकॉनमी का पहिया घुमाया जा सकता है. अमेरिका बड़े स्तर पर ऐसा कर रहा है. वहां रिपब्लिकन सरकार है जिसे कुछ फाइनेंसर चलाते हैं. यदि हम चाहें तो हम भी ऐसा कर सकते हैं.

सूरत से मजदूरों को लेकर आ रही बस में भड़की आग, 48 यात्री थे सवार

50 दिनों बाद बढे पेट्रोल-डीज़ल के दाम, यहाँ जानिए नई कीमतें

बंदिशें हटते ही शुरू होंगी उड़ानें, एयरपोर्ट प्रशासन ने पूरी की तैयारियां

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -