नोबेल विजेता रामाकृष्णन ने इंडियन साइंस कांग्रेस को कहा सर्कस

Jan 07 2016 11:19 AM
नोबेल विजेता रामाकृष्णन ने इंडियन साइंस कांग्रेस को कहा सर्कस

मैसूर : नोबेल पुरस्कार विजेता और भारतीय मूल के अमेरिकी-ब्रिटिश बायोलॉजिस्ट वेंकटरमन रामाकृष्णन ने पहले ही मैसूर में चल रहे इंडियन साइंस कांग्रेस में भाग लेने से इंकार कर दिया है। उनका मानना है कि ये इवेंट फालतू है। रामाकृष्णन ने बीते साल इस कार्यक्रम में भाग लिया था और माना था कि यहां पर साइंस पर ही मामूली बात हुई थी। उन्होने कहा कि यह कार्यक्रम एक सर्कस था, मैंने पाया कि यह ऐसी जगह है जहां साइंस पर ही बहुत कम बातचीत की गई।

मैं अपने जीवन में अब कभी भी साइंस कांग्रेस दोबारा अटेंड नही करुंगा। तमिलनाडु में जन्मे रामाकृषणन को 2009 में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। रामाकृष्णन कैंब्रिज यूनिवर्सिटी में जीव विज्ञानी है। बीते वर्ष भी जब रामाकृष्णन ने मैसूर साइंस कांग्रेस में भाग लिया था तो उन्होने इस बात पर आपत्ति जताई थी कि राजनीति और धर्म को विज्ञान के साथ नही मिलाया जाना चाहिए।

साइंस कांग्रेस प्रत्येक वर्ष आयोजित किया जाता है। इस साल यह मैसूर में चल रहा है, जिसका उद्घाटन पीएम मोदी ने किया था। पिछले साल भी इस कार्यक्रम की बेहद आलोचना हुई थी, क्यों कि कई महत्वपूर्ण खोजों को पौराणिक काल से जोड़ा गया था।