व्यापक हड़ताल का फल-सब्जियों पर नहीं हुआ असर

By Hitesh Songara
Oct 06 2015 12:36 PM
व्यापक हड़ताल का फल-सब्जियों पर नहीं हुआ असर

आल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस के द्वारा शुरू की गई देशव्यापी हड़ताल का सोमवार की रात को अंत हो गया है. लेकिन इसके कारण इंडस्ट्रियल एरिया पर बहुत ही बुरा असर देखने को मिला है. इस हड़ताल को लेकर यह बात भी सामने आई है कि जहाँ ट्रांसपोर्टर्स को रोज करीब 1500 करोड़ रूपये का नुकसान हुआ है वहीँ साथ ही में सरकार को रोज 10 हजार करोड़ रूपये के नुकसान का सामना करना पड़ा है. जी हाँ, यानि इस हड़ताल का सरकार पर काफी ज्यादा असर देखने को मिला है. लेकिन वहीँ साथ ही में यह खबर भी आ रही है कि फल एवं सब्जियों पर इस हड़ताल का अधिक असर देखने को नहीं मिला है.

कुछ फलों और सब्जियों को इस हड़ताल से अलग करने के बाद यदि बात कि जाये तो आपको बतादे कि बाकि की सब्जियों और साथ ही फलों के भाव वैसे ही बने हुए है. साथ ही सूत्रों का यह भी कहना है कि इनके भावों में किसी तरह का इजाफा भी नहीं होना है. मंडी से साथ ही यह बात भी सामने आई है कि 12 अक्टूबर तो सब्जियों और फलों के भाव वैसे ही रहने वाले है लेकिन 13 अक्टूबर से नवरात्रे शुरू हो रहे है, जिसके कारण फलों के भाव में बढ़त देखने को मिल सकती है जबकि सब्जियों के भाव में नरमी देखी जा सकती है.

हरियाणा कमिटी ने इस मामले को देखते हुए वहां की मंडी के बारे में बताया है कि यहाँ अधिकतर फल एवं सब्जियां दूसरे राज्यों से यहाँ ले जाती है और यदि यहाँ के ट्रांसपोर्टर भी हड़ताल में होते तो इसका काफी अधिक असर देखने में आ सकता था. फ़िलहाल फलों के बारे में बात करें तो आपको बता दे कि सेव के भाव जहाँ 70 रुपये प्रतिकिलो से 10 रुपये बढ़ने की खबर आई है वहीँ नाशपाती 50 रुपये से 80 रुपये प्रतिकिलो पर देखने को मिली है.