काले धन को लेकर सरकार का गरम रुख

काले धन को लेकर सरकार का गरम रुख

नई दिल्ली : काले धन के खुलासे को लेकर अब सरकार ने कड़ा रुख किया है. बताया जा रहा है कि सरकार ने यह कहा है कि जो भी लोग विदेशों में जमा संपत्ति का खुलासा जल्द से जल्द कर देते है उनके साथ किसी तरह का उत्पीड़न का बर्ताव नहीं किया जायेगा. लेकिन साथ ही यह भी कहा है कि यदि कोई अघोषित विदेशी सम्पत्ति का खुलासा नहीं करता है तो यकीनन उसके खिलाफ कड़े कदम उठाये जायेंगे और इस मामले में उसे गंभीर परिणाम भुगतने होंगे. और साथ ही इसके तहत ना केवल जुर्माना लगाया जायेगा बल्कि साथ ही मुकदमा और मनी लॉन्ड्रिंग रोधी कानून के तहत सम्पत्तियों को भी जब्त किया जा सकता है.

इसके साथ ही वित्त मंत्रालय ने यह भी कहा है कि कुछ ऐसे भी तबके है जहाँ कि सम्पत्ति की घोषणा करने पर उत्पीड़न का शिकार होने का डर बना हुआ है लेकिन हम आपको बता दे कि आप ऐसी सम्पत्ति का खुलासा बेझिझक कर सकते है. गौरतलब है कि काले धन की समस्या से निपटने के लिए अघोषित विदेशी आय और आस्ति (कर अधिरोपण) कानून, 2015 को लागु किया गया है.

जिसके तहत अघोषित सम्पत्ति रखने वाले लोग अपनी सम्पत्ति की घोषणा कर सकते है और इसके लिए उचित कर और जुर्माने का भुगतान कर अपनी पूरी सम्पत्ति को कानून सम्मत बना सकते है. साथ ही यह जानकारी भी दे दे कि इसके लिए समय सीमा 30 सितम्बर 2015 रखी गई थी जोकि जल्द ही समाप्त हो रही है.