सरकार स्मार्ट सिटी के मामले में अपने ही वादे से पलट गईः नीतीश

सरकार स्मार्ट सिटी के मामले में अपने ही वादे से पलट गईः नीतीश

पटना : बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के बाद अब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी बिहार के एक भी शहर का नाम स्मार्ट सिटी के लिस्ट में न दिए जाने से खफा है। उनका आरोप है कि केंद्र अपने वादे से पलट गया है। नीतीश ने शनिवार को कहा कि नरेंद्र मोदी की सरकार इस मामले में बिहार विधानसभा चुनाव से पूर्व लिए गए अपने निर्णय से पलट गई।

मीडिया से बातचीत में नीतीश ने कहा कि स्मार्ट सिटी के लिए केंद्र ने बिहार सरकार से प्रस्ताव मांगा था और सरकार की ओर से केंद्र को प्रस्ताव भेजा गया था। तेजस्वी ने भी केंद्र पर सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाया था। नीतीश ने यह भी कहा कि केंद्र ने पूरे देश के लिए स्मार्ट सिटी बनाने का वादा किया था।

लेकिन आज केवल 20 शहरों को स्मार्ट सिटी बनाया जा रहा है। सरकार ने शहरों की संख्या सीमित कर ली और बिहार को उसमें शामिल नही किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने बिहार के शहरों में से कुछ शहरों को स्मार्ट सिटी के लिए चयन किया था।

चयन करने के बाद जो उन्होंने शर्त रखी और जिस प्रकार से प्रस्ताव रखा सब कुछ भेजा गया। विधानसभा चुनाव के पूर्व ही केंद्र सरकार द्वारा निर्णय लिया जा चुका था। नीतीश ने आरोप लगाया कि सरकार अपने तैयार करवाए गए प्रस्ताव पर भी अमल नहीं कर रही है।