मांझी ने लगाया नीतिश पर जासूसी करवाने का आरोप

Apr 30 2015 12:26 PM
मांझी ने लगाया नीतिश पर जासूसी करवाने का आरोप

पटना : इन दिनों बिहार में राजनीति का तूफानी गणित खेला जा रहा है। राजनेता लगातार एक दूसरे के विरूद्ध और पक्ष में बयानबाजियां कर रहे हैं। ऐसे में बिहार के महादलित नेता बनकर उभरे पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी कहां चुप बैठने वाले हैं। हाल ही में उन्होंने कहा कि कौन - कौन उनसे मिलने आ रहे हैं इसकी सारी जानकारी ली जा रही है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उनकी जासूसी करवा रहे हैं। नीतीश को ऐसा नहीं करना चाहिए। मिली जानकारी के अनुसार हाल ही में पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने कहा कि जिन लोगों को जाना है वे जा सकते हैं, हमारा इतने दिनों तक साथ देने के लिए धन्यवाद। उन्होंने कहा कि वे जल्द ही अपनी नई पार्टी बनाऐंगी। इसके गठन का ऐलान 10 मई को किया जाएगा। पार्टी का नाम हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा होगा।

इसके बाद चुनाव आयोग से निवेदन कर चुनाव चिन्ह लेने की प्रक्रिया प्रारंभ होगी। उन्होंने कहा कि जदयू और राजद यदि गठबंधन करके चुनाव लड़ते हैं तो ऐसे में उनकी पार्टी की पहचान खो जाएगी। फिर चुनाव चिन्ह भी बदल जाएगा। मांझी ने राज्य में आई आपदा को लेकर विभिन्न क्षेत्रों का दौरान किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रभावित क्षेत्रों तक अनाज तक नहीं पहुंचा। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पूर्णिया पहुंचे और कागजी रिपोर्ट दे दी गई।