जुलाई 2019 से सख्त हो जाएंगे सड़क सुरक्षा मानक

सड़क एवं परिवहन राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने ऐलान किया है कि अब फैक्ट्रियों से निकलने वाली गाड़ियों में नंबर प्लेट लगा कर मिलेगी. उन्होंने साफ़ किया कि कार के मूल्य में ही नंबर प्लेट का शुल्क जुड़ जाएगा. इसके अलावा 2019 तक कई सुरक्षा मानकों को भी अनिवार्य करने की घोषणा की गई है. तो चलिए आपको बताते है कि नितिन गडकरी ने और क्या कहा?

गडकरी ने जानकारी देते हुए कहा कि, 'हमने जरूरी फैसला लिया है कि वाहन निर्माता कंपनियों को ही गाड़ियों में प्लेट लगाना होगा. इससे न केवल ग्राहकों को सुविधा होगी, बल्कि राज्यों को भी अलग-अलग दाम पर प्लेट खरीदने के झंझट से मुक्ति मिल जाएगी.' उन्होंने बताया कि अलग-अलग राज्यों द्वारा नंबर प्लेट 800 रुपये से 40,000 रुपये में बेंचे जा रहे है. आपको बता दें कि फिलहाल नंबर प्लेट का नंबर जिला-स्तरीय क्षेत्रीय परिवहन ऑफिस (आरटीओ) द्वारा जारी किया जाता है.

सरकार ने हाल ही में घोषणा की है कि जुलाई 2019 से निर्मित गाड़ियों में ड्राइवर के लिए एयरबैग, सीट बेल्ट रिमाइंडर, 80 किमी प्रति घंटा से ज्यादा गति पर एलर्ट सिस्टम व रिवर्स पार्किंग के लिए सेंसर जैसे सुरक्षा मानक जरूरी कर दिए हैं. गडकरी ने कहा कि प्रदुषण के मामले में भी सरकार कोई कोताही नहीं बरतने वाली है. इसको लेकर भी क़ानून का सख्ती से पालन किया जाएगा.

 

टीवीएस मोटर्स ने की कुल 3,26,659 वाहनों की बिक्री

मार्च महीने में मारुती ने की रिकॉर्ड तोड़ बिक्री

अस्पताल के हालात खस्ता, महिला ने ऑटो में दिया बच्चे को जन्म

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -