निकले थे तलाश ए इश्क में

म तो निकले थे तलाश ए इश्क में...
अपनी तनहाइयों से लड़कर...
.
.
पर भाई साब धूप बहुत थी तो 
गन्ने का रस पी के वापिस आ गऐ !।!

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -