'कोरोना काल' में न्यूज़ीलैंड के स्वास्थय मंत्री ने दिया इस्तीफा, लॉकडाउन तोड़ने के चलते हो रही थी आलोचना

'कोरोना काल' में न्यूज़ीलैंड के स्वास्थय मंत्री ने दिया इस्तीफा, लॉकडाउन तोड़ने के चलते हो रही थी आलोचना

ऑकलैंड : कोरोनामुक्त होने की घोषणा करने के बाद न्यूजीलैंड में एक बड़ी लापरवाही सामने आई है. दरअसल, न्यूजीलैंड के एक क्वारनटीन शिविर में कुछ दिनों पहले कोरोना के केस सामने आए थे. क्वारनटीन सेंटर की सुरक्षा में चूक हुई थी. इस चूक के बाद न्यूजीलैंड के स्वास्थ्य मंत्री डेविड क्लार्क ने खुद को जिम्मेदार मानते हुए अपने पद से इस्तीफा दे दिया है.

न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार, डेविड क्लार्क ने कोरोना को लेकर सरकार की प्रतिक्रिया और लॉकडाउन नियमों के उल्लंघनों करने पर हो रही आलोचनाओं के बाद इस्तीफा दे दिया है. वे लॉकडाउन के बीच अपने परिवार के साथ बीच पर गए थे. प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने गुरुवार को डेविड क्लार्क के इस्तीफे का ऐलान किया. इससे पहले पीएम जेसिंडा अर्डर्न ने डेविड क्लार्क को हटाने से इनकार करते हुए कहा था कि देश में कोरोना को रोकने में डेविड क्लार्क ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. हालांकि, अब पीएम जेसिंडा अर्डर्न ने कहा कि वह डेविड क्लार्क के निर्णय से सहमत हैं. जेसिंडा अर्डर्न ने जून के आरम्भ में ही न्यूजीलैंड को कोरोनामुक्त घोषित कर दिया था.

न्यूजीलैंड के कोरोनामुक्त होने की घोषणा के कुछ दिन बाद ही ब्रिटेन से लौटी दो महिलाएं कोरोना पॉजिटिव पाई गईं थी. दोनों महिलाओं को सिफारिश के आधार पर क्वारनटीन सेंटर से जल्दी जाने की अनुमति दी गई थी. बाद में दोनों कोरोना पॉजिटिव मिली थी. फिलहाल देश में कोरोना के 22 सक्रीय मामले  हैं, जो अलग-अलग देशों से आए हैं.

डॉक्टर्स डे पर रितेश-जेनेलिया ने लिया यह अहम फैसला, जानकर करेंगे तारीफ़

सोने की कीमत में जबरदस्त तेजी, जानें क्या है नया भाव

vodafone-idea : कंपनी ने शेयर बाजार को दी 73,878 करोड़ रु के नुकसान की जानकारी