पत्रकार जगेंद्र की मौत को लेकर आया नया मोड़

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में पत्रकार जगेंद्र सिंह की हत्या के मामले में एक नया तथ्य सामने आया है। जिसमें यह बात सामने आई है कि सत्ताधारी सपा सरकार ने उनकी नाक में दम किया हुआ है। मामले में यह बात सामने आई है कि जगेंद्र सिंह ने आत्महत्या की थी। हाल ही में इस तरह का बयान उनके बेटे ने दिया है। मामले में जगेंद्र के परिजन ने कहा है कि वे नहीं चाहते कि इस मामले में जांच सीबीआई के हवाले की जाए। मामले में उनके बेटे पुष्पेंद्र ने पहले दिए एक बयान में कहा कि उनके पिता को बरगलाया गया। जिसके चलते उन्हें साजिश का सामना करना पड़ा। 

मामले में यह बात सामने आई है कि जगेंद्र ने पूरे मामले की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट को आदेश दिया है। बयान में कहा गया है कि उनके पिता को बरगलाया गया तो दूसरी ओर उन्हें साजिश का सामना भी करना पड़ा। दूसरी ओर जगेंद्र सिंह ने आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी ओर से राममूर्ति के विरूद्ध किए गए पोस्ट को हमले का कारण बताया था। इस दौरान उन्होंने उल्लेख किया कि मंत्री पर भ्रष्टाचार और आंगनवाड़ी कार्यकर्ता का यौन उत्पीड़न करने का आरोप था। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -