नए तालिबान प्रमुख के पास शांति चुनने का अवसर हैःअमेरिका

वॉशिंगटन : अमेरिका द्वारा ड्रोन हमले में मारा गया पूर्व तालिबानी चीफ मुल्ला मंसूर के बाद बने नए चीफ मुल्ला हैबतुल्ला अखुंदजादा के बारे में अमेरिका का कहना है कि उसके पास शांति चुनने का अवसर है। वो अफगान नीति शांति वार्ता में शामिल होकर बातचीत के जरिये समाधान तलाशने की ओर काम कर सकता है।

विदेश मंत्रालय के उप प्रवक्ता मार्क टोनर ने बुधवार को कहा कि हम उम्मीद करते है कि वो इस मौके का फायदा जरुर उठाएगा। तालिबान ने अफगान सरकार की शांति की पहल को पहले ही खरिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि अखुंदजादा का नाम आतंकवादियों के नाम वाली किसी सूची में शामिल नहीं है।

बता दें कि हैबतुल्ला एक धार्मिक नेता है और वो मंसूर के दो करीबियों में से एक है। टोनर ने इन प्रश्नों का उत्तर नहीं दिया कि क्या वह अफगानिस्तान में अमेरिकी बलों के निशाने पर है। उन्होंने कहा कि मैं इस संबंध में पहले से कुछ नहीं बताऊंगा कि अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा हित में हम किसे निशाना बना सकते हैं।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -