दिवाली के बाद धुंए के गुबार में तब्दील हुई दिल्ली, खतरनाक स्तर पर पहुंचा प्रदुषण

Nov 09 2018 12:59 PM
दिवाली के बाद धुंए के गुबार में तब्दील हुई दिल्ली, खतरनाक स्तर पर पहुंचा प्रदुषण

नई दिल्ली: दिवाली के बाद से दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का खतनाक स्तर तक बढ़ गया है, बढ़ते प्रदूषण के कारण दिल्ली के साथ एनसीआर के शहरों गाजियाबाद, फरीदाबाद, गुरुग्राम, सोनीपत, नोएडा, ग्रेटर नोएडा में रहने वाले लोगों को सांस लेने में दिक्कतों का सामना  हो रही है. दिल्ली-एनसीआर के कई इलाकों में हवा की क्वॉलिटी में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है. कई इलाकों में लोगों ने आंखों में जलन की भी शिकायत की है, खासतौर पर बच्चों में इस तरह की ज्यादा शिकायत पाई गई है.

फोर्टिस को बीच मझधार ने छोड़, सीईओ भवदीप सिंह ने दिया इस्तीफा

जानकारों का कहना है कि हालात यही रहे तो दिल्ली जल्द ही एक बार फिर गैस चैंबर में तब्दील हो सकती है. बढ़ते प्रदूषण के खतरे से निपटने के लिए दिल्ली के साथ-साथ एनसीआर में शासन-प्रशासन भी अपने-अपने स्तर पर कोशिशें कर रहा है. उत्तरी दिल्ली नगर निगम (NDMC) ने प्रदूषण का असर कम करने के लिए पेड़ों पर पानी का छिड़काव करना शुरू किया है. बताया जा रहा है कि इससे धूल पर काबू पाने के साथ पीएम-10 और पीएम-2.5 का असर भी कम होगा. 

एलेन मस्क के इस्तीफे के बाद रॉबिन डेनहोम टेस्ला की नई चेयरपर्सन नियुक्त

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद दिल्ली-एनसीआर में लोगों ने दिवाली पर जमकर पटाखे चलाए, आंकड़ों की मानें तो, दिल्ली में ही 50 लाख किलोग्राम पटाखे फोड़े गए जिस कारण प्रदूषण 77 गुना तक बढ़ गया. सिस्टम ऑफ एयर क्वॉलिटी ऐंड वेदर फोरकास्टिंग (SAFAR) के मुताबिक, 500 से ज्यादा आंकड़ों के साथ बृहस्पतिवार को हवा का स्तर गंभीर रूप से खतरनाक प्लस की श्रेणी में चला गया था.

खबरें और भी:-

आज फिर इतने घटे पेट्रोल- डीजल के दाम, जाने क्या है भाव

गंगोत्री धाम के हुए कपाट बंद, अब मुखवा में होगी पूजा

देश के राजस्व को हो रहा नुकसान, रेलवे के जरिए जीएसटी में लग रही सेंध

?