सीक्रेट फाइलों से खुलासा, नेताजी अपने भतीजे को भेजते थे सीक्रेट रेडियो मैसेज

Sep 19 2015 09:53 AM
सीक्रेट फाइलों से खुलासा, नेताजी अपने भतीजे को भेजते थे सीक्रेट रेडियो मैसेज

कोलकाता : पश्चिम बंगाल सरकार ने नेताजी सुभास चंद्र बोस से जुड़ी 64 फाइलों का खुलासा किया है जिसमे इस बात की पुष्टि हो गई है की नेताजी 1945 के बाद भी जिंदा थे जबकी इन बातों की अटकले लगाई जा रही थी कि कहीं नेताजी की मौत विमान हादसे मे हो गई थी इन फाइलों मे एक रहस्य से पर्दा उठा है. दरअसल पता चला है की नेताजी अपने भतीजे अमिय बोस को सीक्रेट रेडियो मेसेज भेजते थे। दरअसल इन फाइलों से एक लेटर बरामद हुआ है जिसे अमिय बोस ने अपने भाई शिरीर कुमार बोस को 18 नवंबर 1949 को लिखा था जिसमे अमिय ने कहा था की पिछले एक महीने से रेडियो शॉर्ट वेव पर एक चौंकाने वाला ब्रॉडकास्ट सुनने को मिल रहा है.

 ओर इसमें कहा जाता है, ''नेताजी सुभाष चंद्र बोस ट्रांसमीटर ए कौथा बोलते चाय. इसका मतलब है कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस ट्रांसमीटर पर बात करना चाहते हैं. यह वाक्य कई घंटों तक बार बार दोहराया जाता रहा था. उन्होंने कहा की हमें नहीं पता कि यह ब्रॉडकास्ट कहां से हो रहा था. बाद में यह चिट्ठी कोलकाता पुलिस की स्पेशल ब्रांच के हाथ लगी. जिस कारण आजादी के कई दशक बाद भी पश्चिम बंगाल और केंद्र की सभी इंटेलिजेंस एजेंसियां बोस परिवार के बीच हुए कम्यूनिकेशन को लगातार ट्रैक करते रहे थे. आपको बता दे की शिशिर कोलकाता के एक मशहूर डॉक्टर थे. वही भारत छोड़ो आंदोलन में हिस्सा लेने वाले अमीय भी एक जाने-माने फिजिशियन थे, जो बाद में सांसद बने और म्यांमार में भारत के एंबैसेडर के रूप में भी कार्यरत रहे.