वार मेमोरियल को लेकर राजनीति हो रही है: ममता बनर्जी

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर मेयो रोड मौजूद नेताजी की प्रतिमा पर श्रद्धांजलि अर्पित की. उन्होंने कहा कि NCC के तर्ज पर बंगाल के विद्यालयों में जय हिंद वाहिनी का गठन होगा. उन्होंने कहा कि वार मेमोरियल को लेकर सियासत हो रही है, किन्तु शहीदों में कोई पक्षपात नहीं होता है. इतिहास को मिटाया जा रहा है. अमर ज्योति को बुझाकर नेताजी की प्रतिमा कर सम्मान नहीं दिया जा सकता है. अब प्रतिमा बनाया जा रहा है, किन्तु बंगाल में पहले ही प्रतिमा है. लोग स्वतंत्र तौर पर बोलने से भयभीत होता है. इतिहास मिटाया जा रहा है.

वही इस मौके पर बंगाल के संस्कृति विभाग की तरफ से प्रोग्राम का आयोजन किया गया. आज दोपहर 12 बजकर 15 मिनट पर एक साइरन बजाया गया. बंगाल में घरों में अपने घरों में शंख बजाए गए. इस मौके पर ममता बनर्जी ने स्वयं शंख बजाकर नेताजी सुभाष चंद्र बोस की श्रद्धांजलि अर्पित की.

वही इस मौके पर नेताजी परिवार के सदस्य भी मौजूद थे. भारत सेवाश्रम समेत तमाम श्रेणी के लोगों ने इस मौके पर नेताजी को श्रद्धांजलि अर्पित की. दरअसल, पश्चिम बंगाल सरकार ने 23 जनवरी, 2022 तक वर्ष भर प्रोग्रामों के आयोजन लिए एक समिति भी गठित की है. इस के चलते नेताजी की 125वीं जयंती के अवसर पर यहां एक भव्य ‘पदयात्रा’ का आयोजन भी किया जाएगा. सीएम ने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस सिर्फ बंगाल के नहीं, बल्कि पूरी दुनिया की हैं. नेताजी सुभाष चंद्र बोस पूरे संसार के हैं. उनके नाम पर एक यूनिवर्सिटी करेंगे तथा उनके नाम पर स्पोर्टस यूनिवर्सिटी बनाएंगे. नेताजी के नेता पर स्मारक बनाया जाएगा. 

मिल गया अरुणाचल से किडनैप हुआ 17 वर्षीय ‘मीराम तारौन’

सर्दी के मौसम में गर्मी का मजा देंगी भारत की ये जगहें

यहां पर जल्द खुल सकते हैं स्कूल!

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -