सीमा विवाद पर नरम पड़ा नेपाल, बोला- बातचीत से निकालेंगे समाधान

नई दिल्ली: पिछले दिनों से पड़ोसी देश नेपाल से भारत के सम्बन्ध अच्छे नहीं चल रहे हैं। कालापनी और लिपुलेख जैसे सीमा विवाद ने दोनो दोनों देशों के संबंधों को काफी खराब कर दिया है। इसी बीच नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप कुमार ग्यावली ने भारत को लेकर अपने रुख में नरमी दिखाई है। मंत्री ने कहा है कि भारत एक ऐसा देश है। जिससे हमारा रिश्ता बेहद करीबी रहा है।

उल्लेखनीय हैं कुछ दिनों पहले नेपाल ने कालापानी और लिपुलेख को लेकर अपने नया नक्शा जारी किया था। जिसमें इन दोनों क्षेत्रों पर अपना हिस्सा दिखाया था। जबकि यह क्षेत्र भारत के उत्तराखण्ड राज्य के हिस्सा हैं। जबसे ही दोनों देशों के बीच लगातार संबंध खराब हुए हैं। इस बीच नेपाल के विदेश मंत्री ने कहा है कि हमने हमेशा कहा है कि इस मुद्दे का समाधान वार्ता से होगा। वह कहते हैं कि हम इस मुददे का हल बातचीत से चाहते हैं। इसके लिए बिना किसी आवेग और पूर्वागृह की आवश्यकता होगी।

आपको बता दें इससे पहले नेपाल जब बेहद आक्रामक हो गया था। जब भारत की ओर से लिपुरेख सीमा पर सड़क बनाए जाने का नेपाल की ओर से विरोध किया गया था। इसके साथ ही कुछ दिनों पहले नेपाल के पीएम केपी ओली ने कोरोना वायरस को लेकर कहा था कि नेपाल में कोरोना भारत के कारण फैल रहा है। वह कहते हैं कि भारतीय कोरोना अन्य देशों की तुलना में अधिक खतरनाक है।  

दो महीने बाद शुरू हुई उड़ानें, कई फ्लाइट्स हुई कैंसिल, परेशान हुए यात्री

क्या श्रम कानूनों में बदलाव ला पाएंगी उघोग जगत में गति ?

देश में नौकरी को लेकर इतने प्रतिशत लोग भटक रहे बेरोजगार

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -