कुमार विश्वास ने PMO को कहा धन्यवाद, जाने क्या है वजह

कुमार विश्वास ने PMO को कहा धन्यवाद, जाने क्या है वजह

बीते दिनों चीन के साथ खूनी संघर्ष के बाद भारत में चीनी सामनों का बहिष्कार प्रारंभ हो गया है. वही, चीनी सामानों के बहिष्कार के बीच भारत सरकार ने चीन के 59 ऐप को बैन करने का फैसला किया है. इनमें टिकटॉक, हेलो, लाइकी, यूसी ब्राउजर जैसे चर्चित ऐप भी शामिल हैं.  इस पर राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों पर कटाक्ष करने वाले देश के नामी कवि कुमार विश्वास ने अपनी प्रतिक्रिया में चीनी ऐप बैन करने पर खुशी जताई है.  उन्होंने प्रधानमंत्री कार्यालय और गृहमंत्रालय को टैग करते हुए ट्वीट किया है- मैं बेहद खुश है, क्योंकि इन सभी ऐप में से किसी का इस्तेमाल नहीं करता. है ड्रैगन...इंतजार करो...अभी कुछ और....' बता दें कि कवि कुमार विश्वास लगातार सामाजिक और राजनीतिक मुद्दों पर कटाक्ष करते रहे हैं. प्रतिक्रिया के दौरान वह सत्ता पक्ष के साथ विपक्ष को भी निशाने पर लेने से नहीं चूकते. पिछले दिनों चीन मुद्दे पर कांग्रेस पार्टी द्वारा केंद्र पर हमला बोलने पर कवि कुमार विश्वास ने निशाने पर लेते हुए ट्वीट किया था, जिसका मजमून था कि अभी एकजुटता दिखाने का समय है.

भाजपा कहती है 'मेक इन इंडिया', लेकिन करती है 'बाय फ्रॉम चायना' - राहुल गाँधी

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि 15-16 जुलाई की रात को भारत -चीन सीमा पर हिंसक झड़प में एक सैन्य अफसर समेत  20 भारतीय जवानों के शहीद होने के बाद देशभर के लोगों में जबरदस्त गुस्सा है. चीनी सामानों के बहिष्कार के लिए आम जनता के साथ कई व्यापारिक संगठनों ने भी मोर्चा खोल लिया है. इसतना ही नहीं, दिल्ली में तो ग्रामीण इलाकों में भी लोग चाइनीज सामानों के बहिष्कार का आह्वान कर रहे हैं. लोगों का कहना है चाइनीज सामान हमारे जवानों के खून से रंगा हुआ है. हमारे जवान सीमा पर चीनी सेना से दो-दो हाथ कर रहे हैं. हम अपने जवानों के बलिदान को श्रद्धाजलि देते हुए चाइनीज सामानों का पूरी तरह से बहिष्कार करेंगे. लोगों का कहना है कि हम महंगा सामान खरीद लेगें लेकिन चीन में बने हुए सामान नहीं खरीदेंगे. इसके अलावा भारतीय निर्माताओं को प्रोत्साहित करेंगे. 

इंग्लैंड में बेकाबू हुआ कोरोना, फिर लागू करना पड़ा लॉकडाउन

इसके अलावा केंद्र सरकार ने चीनी ऐप को लेकर लगातार आ रही शिकायतों के मद्देनजर फैसला लिया है. विशेषज्ञों का कहना है कि चीनी ऐप भारतीय नागरिकों की निजता पर हमला कर रहे हैं और उनके डाटा तक चुरा रहे हैं.

गलवान विवाद पर बोले US सीनेटर्स, कहा- भारत को जानबूझकर उकसा रहा चीन

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल को रास नहीं आया चीनी एप बैन करने का फैसला, कही ये बात

पाकिस्तान ने आज से फिर खोला करतारपुर कॉरिडोर, नहीं पहुंचा एक भी भारतीय श्रद्धालु